कोरोना महामारी के दौरान डिजिटल खरीदारी में 70 प्रतिशत तक की वृद्धि हुई : रिपोर्ट

प्रियंका तिवारी, नई दिल्ली : फेसबुक इंडिया और बोस्टन कंसल्टिंग ग्रुप के रिपोर्ट के मुताबिक मोबाइल फोन, एपरेल और कंज्यूमर पैकेज्ड गुड्स (सीपीजी) श्रेणियों में कोविड-19 के कारण उपभोक्ताओं की खरीदी के तरीकों में काफी बदलाव आया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक शहरी उपभोक्ताओं में डिजिटल का प्रभाव बहुत ज्यादा बढ़ा है, मोबाइल के लिये इसमें 70 प्रतिशत, एपरेल के लिये 55-60 प्रतिशत और नॉन-फूड सीपीजी श्रेणियों के लिये 20-25 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी हुई है। इसमें तीन तरह के कंज्यूमर ट्रेन्ड्स हैं, जो बताते हैं कि हमारा जीवन स्मार्टफोन पर और ज्यादा केंद्रित  हुआ है।

फेसबुक इंडिया के ग्लो्बल मार्केटिंग सॉल्यूशंस डायरेक्टवर एवं हेड, संदीप भूषण का कहना है कि खरीदारी के लिए डिजिटल प्रभाव में बढ़ोतरी हुई है, कुछ श्रेणियों के लिये यह 70 प्रतिशत तक बढ़ा है। डिजिटल को सोशल मीडिया के कारण गति मिली है। आज भारत के 400 मिलियन से ज्यादा लोग फेसबुक फैमिली ऑफ एप्स से जुड़े हैं और उपभोक्ताओं की यात्रा में हमारी बड़ी भूमिका है। इनमें से कुछ ट्रेंड्स महामारी के बाद भी जारी रहेंगे। लॉकडाउन के दौरान जिन 90 प्रतिशत उपभोक्ताओं ऑनलाइन एपरेल खरीदे, उन्होंमने आगे भी इसे जारी रखने की इच्छाक जताई है। सीपीजी में यह आंकड़ा फूड रिलेटेड सब-कैटेगरीज के लिये 80 प्रतिशत और नॉन-फूड रिलेटेड सब-कैटेगरीज के लिये 84 प्रतिशत है। वहीं लोग आने वाले छह महीनों में स्मार्टफोन, कंज्यूमर पैकेज्ड गुड्स और एपरेल की खरीदारी के लिये ऑनलाइन चैनल्स को एक्सप्लोर करना चाहते हैं।

हेल्थ, इम्युनिटी से संबंधित उत्पाद पर खर्च बढ़ाना चाहते हैं उपभोक्ता
बोस्टन कंसल्टिंग ग्रुप कि मैनेजिंग डायरेक्टरर एवं पार्टनर, निमिषा जैन का कहना है कि मोबाइल, एपरेल और सीपीजी में हम ग्राहकों की पसंद और खरीदारी के तरीके में बदलाव देख रहे हैं। उम्मीोद करते हैं कि अगले 2 वर्षों में मोबाइल्स के लिये ऑनलाइन सेल्स मार्केट 45 प्रतिशत पर पहुँच जाएगा। 10 में से 8 उपभोक्ता बाहर जाने से बच रहे हैं, जिससे वार्डरोब्स का कैजुअलाइजेशन होगा। 2 में से लगभग 1 उपभोक्ता हेल्थ और इम्युनिटी से संबंधित फूड प्रोडक्ट्स पर खर्च बढ़ाना चाहता है। मोबाइल के लिये 70 प्रतिशत और एपरेल के लिये 55-60 प्रतिशत शहरी उपभोक्ता डिजिटल से प्रभावित होंगे। जरूरत है कि ब्रांड अपने डिजिटल जुड़ाव को बढ़ाएं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सीबीआई, ईडी से डरने वाला नहीं हूं – अभिषेक

भाजपा पर तंज : अगर ‘जय बांग्ला’ हमें बांग्लादेश समर्थक बताता है तो भाजपा का ‘सोनार बांग्ला’ के बारे में क्या कहना है सन्मार्ग संवाददाता ठाकुरनगर : आगे पढ़ें »

लॉकडाउन समाप्ति के बाद सोना तस्करी का मुख्य केन्द्र बनता जा रहा है सिलीगुड़ी

6 महीने में 50 करोड़ की कीमत का 115 किलो सोना पकड़ा डीआरआई ने सिलीगुड़ी आने के बाद भी कई राज्यों से होकर भेजा जा रहा आगे पढ़ें »

ऊपर