कोरोना की रोकथाम के लिए एडीबी ने भारत को लगभग 16,500 करोड़ रुपये देने का आश्वासन दिया

नई दिल्ली : एशियाई विकास बैंक ने कोरोना महामारी से लड़ने के लिए भारत को 2.2 अरब डॉलर (लगभग 16,500 करोड़ रुपये) देने का आश्वासन दिया है। बैंक के अध्यक्ष मासत्सुगु असाकावा ने भारत की सराहना करते हुए कहा है कि भारत ने राष्ट्रीय स्वास्थ्य आपातकालीन कार्यक्रम, व्यवसायों को दिए जाने वाले कर और अन्य राहत उपायों की घोषणा इस महामारी से लड़ने के लिए एक अच्छी कोशिश है।

26 मार्च को भारत सरकार ने बड़ा कदम उठाते हुए 1.7 लाख करोड़ रुपये का आर्थिक राहत पैकेज दिया जो कि एक बेहतर कदम है। असाकावा ने कहा कहा कि एडीबी भारत की जरूरतों को पूरा करने में सहयोग करेगा। इस महामारी से लड़ने के लिए स्वास्थ्य क्षेत्र में तत्काल सहायता के लिए 2.2 अरब अमेरिकी डॉलर खर्च करने की योजना बना रहे हैं। इस मदद से गरीबों को फायदा होगा। एडीबी ने कहा कि ऐसे समय में वित्तीय जरूरतों को पूरा करने के लिए निजी क्षेत्र भी साथ है और जरूरत पड़ने पर भारत को और सहायता दी जाएगी। फंडों के तेजी से वितरण के लिए आपातकालीन सहायता, नीति-आधारित कर्ज और बजट समर्थन सहित भारत की जरूरतों को पूरा करने के लिए उपलब्ध सभी वित्तपोषण विकल्पों पर विचार करेंगे।

वैश्विक आर्थिक विकास में गिरावट के कारण आर्थिक गतिविधियों में मंदी के साथ भारत की व्यापार और विनिर्माण आपूर्ति श्रृंखला में रुकावट पैदा हुई है। सूक्ष्म, लघु व मध्यम उद्यमों के साथ ही औपचारिक और अनौपचारिक मजदूरों की आजीविका बड़े स्तर पर प्रभावित हुई है। भारत सरकार द्वारा घोषित नीतिगत उपाय देश के कमजोर तबके की मदद के साथ उद्योग धंधो को भी तेजी से उभरने में मदद करेगी। देश में 25 मार्च से 14 अप्रैल तक लॉकडाउन है और माना जा रहा है कि इसे और बढ़ाया जा सकता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

टॉस विवाद पर बोले संगकारा- मैं जीता था लेकिन धोनी आवाज नहीं सुन पाए तो दोबारा सिक्का उछाला गया

नयी दिल्‍ली : भारत-श्रीलंका के बीच 2011 वर्ल्ड कप फाइनल में दोबारा टॉस कराने के मामले में अब जाकर श्रीलंका के पूर्व कप्तान कुमार संगकारा आगे पढ़ें »

ईसीबी ने 55 खिलाड़ियों को अभ्यास शुरू करने को कहा

लंदन : विश्व कप विजेता कप्तान इयोन मोर्गन और टेस्ट टीम के कप्तान जो रुट के अलावा इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने 55 आगे पढ़ें »

ऊपर