कॉल ड्रॉप की परेशानी होगी खत्म, बीएसएनएल एवं एमटीएनएल का नेटवर्क सरकार करेगी मजबूत

नई दिल्ली : अब तक 1-1. 25 लाख डिजिटल गांवों की स्थापना हो गई है और नेटवर्क की स्थिति को बेहतर बनाने और बीएसएनएल एवं एमटीएनएल का पुनरुत्थान हमारी शीर्ष प्राथमिकताओं में शामिल हैं। ये बातें दूरसंचार राज्य मंत्री संजय शामराव धोत्रे ने ब्रॉडबैंड इंडिया फोरम के मौके पर संवाददाताओं से कही बातचीत में कही। उन्होंने कहा कि हमें इस साल 1-1. 25 लाख डिजिटल गांवों की स्थापना करनी है। कॉलड्रॉप सहित सेवाओं की गुणवत्ता को बेहतर बनाना है और बीएसएनएल और एमटीएनएल का पुनरुत्थान करना है।

उन्होंने कहा कि घाटे में चल रही सरकारी दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनियों बीएसएनएल और एमटीएनएल के पुनरुत्थान के प्रस्ताव को तीन से चार माह के भीतर केंद्रीय मंत्रिमंडल के समक्ष रखा जाएगा। वहीं दूरसंचार सचिव अरुणा सुंदरराजन ने कहा है कि दुकानदारों, रेस्तरां और छोटे कारोबारियों को पहले के टेलिफोन बुथ की तरह वाईफाई की सुविधा उपलब्ध कराने की अनुमति देने के लिए सरकार एक तंत्र विकसित करने की दिशा में काम कर रही है।

भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) ने देश में वाईफाई हॉटस्पॉट की संख्या बढ़ाने के लिए सार्वजनिक डेटा कार्यालय (पीडीओ) की स्थापना का सुझाव दिया था, लेकिन दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनियों के विरोध के चलते इसे आगे नहीं बढ़ाया गया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

Jagdip Dhankhar

धनखड़ के खिलाफ विधान सभा से संसद तक मोर्चाबंदी

कोलकाता : ऐसा पहली बार हुआ है जब विधानसभा में सत्ता पक्ष ने धरना दिया। कारण थे राज्यपाल जगदीप धनखड़, जिन पर विधेयकों को मंजूरी आगे पढ़ें »

मेरे कंधे पर बंदूक रखकर चलाने की को​शिश न करें – धनखड़

कोलकाता : राज्यपाल जगदीप धनखड़ और तृणमूल सरकार के बीच संबंधों में मंगलवार को और खटास आ गयी जब उन्होंने ‘कछुए की गति से काम आगे पढ़ें »

ऊपर