औद्योगिक उत्पादन 20 महीने के निचले स्तर पर

नई दिल्ली : देश में औद्योगिक उत्पादन में बड़ी कमी आई है. पिछले 20 महीने में औद्योगिक उत्पादन रेट 1.4 प्रतिशत से गिरकर 0.1 प्रतिशत रह गई है. उत्पादन में कमी आने के कारण महंगाई भी बढ़ी है. महंगाई दर 2.57 प्रतिशत से बढ़कर 2.86 प्रतिशत पर पहुंच गई है. बाजार के जानकारों के मुताबिक इन कमजोर आंकड़ों से शेयर बाजार में गिरावट की आशंका बनी हुई है. बाजार में गिरावट आती है तो म्युचूअल फंड्स के रिटर्न पर भी इसका असर देखा जाएगा. सोमवार को शेयर बाजार खुलने पर इन आंकड़ों का असर बाजार पर देखने को मिलेगा.
बाजार के जानकारों के मुताबिक आईआईपी ग्रोथ इस माह में गिरने का अनुमान पहले से था, लेकिन आंकडें काफी चौकाने वाले हैं. ये उम्मीद से काफी कम है. इनमें गाड़ियों की बिक्री में गिरावट का असर भी इन आंकड़ों पर पड़ा है. हालांकि भविष्य में राहत की उम्मीद है. नई सरकार आने के बाद यदि बेहतर नीतियों पर काम करती है तो औद्योगिक उत्पादन की स्थिति बेहतर हो सकती है. हालांकि अभी जो आंकड़ें सामने आए हैं, उनके चलते अगले कुछ महीनों तक औद्योगिक उत्पादन की गति धीमी रहने की उम्मीद है.

शेयर करें

मुख्य समाचार

अमेरिका का बजट घाटा एक हजार अरब डॉलर के पार !

बजट कार्यालय ने व्यक्त किया अनुमान वाशिंगटनः अगले वित्त वर्ष में अमेरिका का बजट घाटा एक हजार अरब डॉलर के पार जाने की आशंका है। यह आगे पढ़ें »

new zealand speaker

न्यूजीलैंड : संसद में रो रहे बच्चे को स्पीकर ने पियाला दूध, लोगों ने की सराहना

वेलिंगटन : न्यूजीलैंड के संसद भवन में स्पीकर ट्रेवर मलार्ड ने एक सांसद के बेटे को दूध पिलाया। मालूम हो कि संसद भवन में आमतौर आगे पढ़ें »

ऊपर