ऑटो इंडस्ट्री पर नीति आयोग के इस फैसले का सियाम ने किया स्वागत

नई दिल्ली : नीति आयोग की देश में इलेक्ट्रिक गाड़ियों को जल्दी लाए के सुझाव को ऑटो कंपनियों के संगठन सियाम ने भरपूर समर्थन किया है। नीति आयोग ने कहा है कि भारत को न सिर्फ कदम मिलाकर चलना है, बल्कि इलेक्ट्रिकल व्हीकल टेक्नोलॉजी से भी कहीं आगे जाना है। नीति आयोग की कोशिश पर सियाम ने कहा है कि इसके लिए हमें एक व्यवहारिकता के साथ आगे बढ़ना होगा।

वहीं सियाम के प्रेसिडेंट राजन वढेरा का कहना है कि इलेक्ट्रिकल व्हीकल्स के उद्देश्य को पूरा करने के लिए हमें एक ऐसा तरीका अपनाना होगा, जिससे ऑटोमोटिव इंडस्ट्री को बिना प्रभावित किए बिना हम सफल हो सकें। यह उद्योग कई चुनौतियों से जूझ रहा है। इसमें कार्बन उत्सर्जन नियम बीएस-6 और कई नए सेफ्टी फीचर्स को शामिल करना शामिल है। इसे बेहद कम समय में हमने पूरी करने की कोशिश की है।

उन्होंने कहा कि इंडस्ट्री का मेक इन इंडिया को भरपूर समर्थन है। कुल मैनुफैक्चरिंग जीडीपी में करीब-करीब आधी की भागीदारी ऑटो इंडस्ट्री का टर्नओवर करता है। यह इंडस्ट्री 3.7 करोड़ रोजगार और कुल जीएसटी कलेक्शन में 11 प्रतिशत की हिस्सेदारी रखती है। वढेरा का कहना है कि देश में इलेक्ट्रिक वाहनों को उतारने से पहले एक इंटीग्रेटेड योजना की जरूरत है। इसमें इसके लिए देशभर में आवश्यक आधारभूत संरचना पर काम होना चाहिए। ऑटो इंडस्ट्री इस मामले में हमेशा सरकार के साथ हिस्सेदारी कर देश में इलेक्ट्रिक गाड़ियों को बढ़ावा देने के लिए काम करेगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल में कोरोना के 1390 आये नये मामले

कोलकाता : वेस्ट बंगाल कोविड-19 हेल्थ बुलेटिन के अनुसार पश्चिम बंगाल में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 1390 नये मामले सामने आये आगे पढ़ें »

भारत में अल्पपोषित लोगों की संख्या छह करोड़ घटकर 14 प्रतिशत पर पहुंची : संयुक्त राष्ट्र

संयुक्त राष्ट्र : भारत में पिछले एक दशक में अल्पपोषित लोगों की संख्या छह करोड़ तक घट गई है। संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट में आगे पढ़ें »

ऊपर