ऐसे उठा सकते हैं एनपीएस में छुट का लाभ

नई दिल्ली : नेशनल पेंशन योजना (एनपीएस) ने ईपीएफओ से कहीं ज्यादा रिटर्न दिया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक बीते 10 साल में केंद्रीय और राज्य कर्मचारियों को एनपीएस में 9.1% और 9. 5% का रिटर्न मिला है, जबकि ईपीएफओ में यह आंकड़ा 8.7% है। अब सरकार ने इसमें निवेश को कर मुक्त करने का भी प्रावधान कर दिया है।

टैक्स एक्सपर्ट अनिल के श्रीवास्तव के मुताबिक एनपीएस के तहत दो तरह के खाते आते हैं – टियर 1 और टियर 2। टियर 1 एनपीएस खाता अनिवार्य होता है, जबकि टियर 2 खाता 1 स्वैच्छिक बचत खाता है। इसे कोई भी खोल सकता है और कभी भी निकासी की जा सकती है।

कर्मचारी को फायदा
इनकम टैक्स एक्ट की सेक्शन 80 सीसीडी(1) के तहत कर्मचारी को एनपीएस में योगदान पर कर छूट मिलती है और सेक्शन 80 सी के तहत कर छूट की राशि 1. 50 लाख रुपए से ऊपर नहीं हो सकती। अन्य लोगों के लिए यह सीमा ग्रॉस इनकम की 20 फीसदी है।
सेक्शन 80 सीसीडी 1 (बी) के तहत कर्मचारी स्वैच्छिक रूप से एनपीएस में अतिरिक्त 50 हजार रुपए का निवेश कर सकते हैं, जबकि सेक्शन 80 सी के तहत 1. 50 लाख रुपए और अतिरिक्त 50 हजार का निवेश कर कोई भी कर्मचारी 2 लाख रुपए तक की कर छूट पा सकता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

current

कर्नाटक: सरकारी हाॅस्टल के 5 छात्रों की करंट लगने से हुई मौत

बेंगलुरू : कर्नाटक में हुए दर्दनाक हादसे में एक सरकारी हॉस्टल में करंट लगने से पांच छात्रों की मौत हो गई। घटना की सूचना पाकर आगे पढ़ें »

अनुच्छेद 370 हटाने पर कांग्रेस के स्टैंड से हुड्डा नाराज

पानीपत : जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के हटाए जाने पर कांग्रेस के स्टैंड से पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा नाराज चल रहे हैं। वे पार्टी के आगे पढ़ें »

ऊपर