एसबीआई ग्राहकों को घर खरीदने पर 2.67 लाख रुपए की छूट

नई दिल्ली : स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) ने घर खरीदारों को बड़ा ऑफर दे रही है. अगर आप पहली बार घर खरीदने जा रहे हैं तो एसबीआई आपके होम लोन पर 2.67 लाख रुपए की छूट देगा. यह छूट सब्सिडी के रूप में दी जाएगी. एसबीआई का टैगलाइन है ‘अपने सपनो का घर हो सकता है’. एसबीआई के इस ऑफर का लाभ लेने के लिए आप ऑनलाइन अप्लाई कर सकते हैं.

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत पहली बार घर खरीदने वालों को 2.67 लाख रुपए की सब्सिडी दी जा रही है. 2.67 लाख रुपए की यह सब्सिडी आपके होम लोन पर बनने वाली ब्याज पर दी जाती है. इसका मतलब आपको अपने होम लोन पर बनने वाली ब्याज में से 2.67 लाख रुपए का भुगतान नहीं करना होगा. फिलहाल, एसबीआई होम लोन की सालाना ब्याज दर 8.60 फीसदी है.
एसबीआई ग्राहकों को सब्सिडी के अलावा कई और आकर्षक ऑफर दे रही है, इनमें होम लोन पर टेकओवर लेने वालों से बैंक कोई भी प्रोसेसिंग फीस नहीं लेगा.

वहीँ ब्रिज होम लोन लेकर अपने पुराने घर का रेनोवेशन भी करा सकते हैं. साथ ही होम लोन पर टॉप अप लोन की सुविधा भी है. प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत सब्सिडी को 3 लाख रुपए तक कमाने वाले आर्थिक रूप से कमजोर तबके और 6 लाख रुपए तक आय वाले कम आमदनी वाले ग्रुप को ध्यान में रखकर तैयार की गई थी. सब्सिडी के लिए दो नए स्लैब तैयार करने के बाद इस दायरे में 12 और 18 लाख रुपए तक कमाई वाले लोग भी शामिल होंगे.

किसको कितनी सब्सिडी
• 6.5 फीसदी की क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी सिर्फ 6 लाख रुपए तक के लोन पर उपलब्ध है.
• 12 लाख रुपए तक की सालाना कमाई वाले लोगों को 9 लाख रुपए तक के लोन पर 4 फीसदी ब्याज सब्सिडी का लाभ मिलेगा.
• 18 लाख रुपए तक की सालाना कमाई वालों को 12 लाख रुपए तक के लोन पर 3 फीसदी ब्याज सब्सिडी का लाभ मिलेगा.
साथ ही बैंक प्रीपेमेंट की सुविधा दे रही है, जिससे आप जल्द लोन चुका सकते हैं. इसके आप ब्याज के भुगतान में बचत कर सकते हैं.

शेयर करें

मुख्य समाचार

वेस्टइंडीज जीत के करीब, इंग्लैंड ने दूसरी पारी में 313 रन बनाए

साउथैम्पटन : इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट में वेस्टइंडीज जीत की ओर है। मैच के पांचवें दिन टी ब्रेक तक मेहमान टीम ने 4 विकेट के आगे पढ़ें »

पगबाधा का फैसला सिर्फ और सिर्फ डीआरएस से हो : तेंदुलकर

नयी दिल्ली : महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने अंपायरों के फैसलों की समीक्षा प्रणाली (डीआरएस) से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) को ‘अंपायर्स कॉल’ को हटाने आगे पढ़ें »

ऊपर