एलटी फूड्स और जापानी कंपनी-केमेडा ने क्रंची नमकीन किए लॉन्च

नई दिल्ली : दावत-कमेडा इंडिया ने भारतीय बाजार में कुरकुरे, हल्के, हेल्दी और प्रीमियम राइस स्नैक्स, ‘करी करी’ लॉन्च किए है। दावत-कमेडा भारत के सबसे बड़े राइस बेस्ड फूड कोंग्लोमेरेट, एलटी फूड्स लिमिटेड और जापान की सबसे बड़ी राइस क्रैकर्स कंपनी-केमेडा सेका की ज्वाइंट वेंचर कंपनी है। जापान में चावल के स्नैक्स के लिए प्रसिद्ध कमेडा क्रिस्प से प्रेरित, ‘करी करी’ क्रिस्प चावल और मूंगफली से तैयार किये जाते हैं। यह बेहद पौष्टिक व स्वादिष्ट स्नैक है। एक हेल्दी स्नैकिंग विकल्प के रूप में भुने हुए चावल का यह स्नैक प्रोटीन से भरपूर है। भारतीय बाजार में यह 4 अलग-अलग स्वादों में उपलब्ध है,जिनमें चिली गार्लिक, वसाबी, साल्ट एंड पेपर और स्पाइस मेनिया शामिल हैं। ‘करी करी’ आज के समझदार युवाओं को ध्यान में रखकर ही तैयार किया गया है जो हेल्दी, नॉन-फ्राइड इनग्रेडिएंट बेस्ड स्नैकिंग विकल्पों को पसंद करते हैं। इसके 60 ग्राम पैक की कीमत 50 रुपये और 135 ग्राम पैक की कीमत 99 रुपये है।

अन्य कैटेगरी के उत्पादों पर सरकार लगाएगी प्रतिबंध, ये है कारण

एलटी फूड्स 80 साल पुरानी कंज्यूमर फूड कंपनी है जो 80 से अधिक देशों में स्वाद और पोषण से भरपूर बेहतरीन गुणवत्ता वाले चावल और चावल आधारित खाद्य ब्रांड्स उपलब्ध कराती है। एलटी फूड्स ऑर्गेनिक एग्री इनग्रेडिएंट्स का भी उत्पादन करता है और पिछले 25 सालों से यूरोप और यू.एस. के प्रमुख व्यवसायों में इनकी आपूर्ति कर रहा है। इसके फ्लैगशिप ब्रांड्स ‘दावत’ और ‘रॉयल’ भारत और अमेरिका में क्रमशः 29% और 45% की बाजार हिस्सेदारी के साथ अग्रणी स्थान रखते हैं और अन्य देशों के बाजारों में भी इनकी मजबूत हिस्सेदारी है। लगभग 30% हिस्सेदारी के साथ कमेडा सेका जापानी राइस क्रैकर बाजार में लीडर है।

सोनीपत में किया निवेश
ज्वाइंट वेंचर कंपनी दावत-कमेडा प्राइवेट लिमिटेड करी करी को स्थानीय रूप से बनी सामग्रियों और कच्चे माल से तैयार करेगी। कंपनी ने रिसर्च एंड डेवलपमेंट तथा स्टेट ऑफ आर्ट मैन्यूफैक्चरिंग फेसिलिटी के लिए सोनीपत में निवेश किया है। कंपनी स्थानीय स्तर पर एक विशिष्ट प्रकार का चावल भी उगा रही है जो स्नैक (नाश्ते) का प्रमुख घटक है। भारत में यह स्टेट ऑफ आर्ट मैन्यूफैक्चरिंग फेसिलिटी, कामेडा, जापान के मैन्यूफैक्चरिंग यूनिट्स के मानकों के अनुरूप निर्मित है जो न सिर्फ भारत बल्कि पूरे उपमहाद्वीप, मध्य पूर्व और अन्य देशों के बाजारों को चरणबद्ध तरीके से अपनी सेवाएँ देगी।

ओप्पो ने 8 जीबी रैम वाला फोन एफ15 किया लॉन्च, जानिए कीमत और खासियत

राईस बेस्ड है नमकीन
इस अवसर पर एलटी फूड्स लिमिटेड के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर विजय कुमार अरोड़ा ने कहा कि उपभोक्ता की बदलती जरूरतों, पसंद और स्वादिष्ट व हेल्दी स्नैक्स की मांग के आधार पर कंपनी ने अपने राइस बेस्ड स्नैक्स “करी करी” के साथ भारत में प्रीमियम स्नैक्स कैटेगरी में निवेश किया है। यह प्रीमियम स्नैक्स श्रेणी प्रति वर्ष 20-25% की दर से बढ़ रही है। करी करी को दिल्ली-एनसीआर, मुंबई और बैंगलोर में पूरे मॉडर्न ट्रेड स्टोर्स में अपने टेस्ट लॉन्च फेज के दौरान जबरदस्त प्रतिक्रिया मिली है। कंपनी ने इन उत्पादों को तैयार करने के लिए भारत में एक फेसिलिटी स्थापित की है। हमारे टेक्नोलॉजी पार्टनर्स के सहयोग से भारत में इन उत्पादों की एंड-टू-एंड मैन्युफैक्चरिंग में कमेडा सेका इस ज्वाइंट वेंचर के लिए एक मील का पत्थर साबित होगी। ज्वाइंट वेंचर में कंपनी “करी करी” का निर्माण स्थानीय रूप से प्राप्त सामग्रियों और कच्चे माल से करेगी और पूरे भारत में इसके डिस्ट्रीब्यूशन नेटवर्क का विस्तार होगा। भारत में पहला राइस बेस्ड बेक्ड स्नैक्स तैयार करने में यह ज्वाइंट वेंचर अग्रणी है।

जापान में है लोकप्रिय
दावत कमेडा के डायरेक्टर जुन कोनो ने कहा कि हम बहुत खुश हैं कि हमारी ज्वाइंट वेंचर कंपनी, भारतीय बाजार में ‘करी करी’ को उतारने के लिए तैयार है। हमारे चावल के स्नैक्स जापान में बेहद लोकप्रिय हैं और मुझे यकीन है कि चावल और मूँगफली से तैयार यह रोस्टेड हेल्दी स्नैक भारतीय युवाओं को बहुत पसंद आएगा। सोनीपत में आधुनिक और तकनीकी रूप से उन्नत मैन्यूफैक्चरिंग यूनिट न केवल भारत के बाजार बल्कि भविष्य में पूरे उपमहाद्वीप, मध्य पूर्व और अन्य देशों के बाजारों को भी अपनी सेवाएं मुहैया कराएगी। जल्द ही हम ‘करी करी’ को नए फॉर्मेट्स में भी लॉन्च करेंगे।

भारतीय वित्तीय बाजार को बजट से ये हैं उम्मीदें

2024 तक 20,000 रिटेल आउटलेट्स और 35,000 आउटलेट्स तक होगी पहुंच
शुरुआत में लॉन्च के लिए बीटीएल एक्टिविटीज की मदद ली जाएगी, जिसमें रिटेल स्टोर्स, एयरलाइंस, मल्टीप्लेक्स, कॉरपोरेट, कॉलेज आदि में प्रॉडक्ट सैंपलिंग पर खास फोकस किया जाएगा। काउंटर सेल्स को बढ़ाने के लिए रिटेल आउटलेट्स पर अनेक ब्रांड प्रमोशन एक्टिविटीज की योजना है। इसके साथ ही लक्षित ग्राहकों से जुड़ने के लिए डिजिटल और सोशल मीडिया कैंपेन भी चलाया जाएगा। दूसरे फेज में मुख्य रूप से टेलीविजन और रेडियो मीडिया में एटीएल कैंपेन लाँच किया जाएगा। ‘करी करी’ को देश भर में भारतीय मूल कंपनी एलटी फूड्स लिमिटेड के मजबूत डिस्ट्रीब्यूशन नेटवर्क और रिटेल चैनल का लाभ मिलेगा। अगले साल यह मॉडर्न ट्रेड और ई-कॉमर्स में अपनी उपस्थिति बढ़ाएगा। कंपनी की 2024 तक 20,000 रिटेल आउटलेट्स और 35,000 आउटलेट्स में उपस्थिति दर्ज कराने की योजना है।

30000 करोड़ रुपये का कारोबार
कैटेगरी में एक्साइटमेंट को बढ़ाने व उपभोक्ताओं को विभन्न जेनर में और अच्छी पेशकश उपलब्ध कराने के लिए कंपनी की भविष्य में प्रीमियम कैटेगरी के भीतर और अधिक उत्पादों को शामिल करने की योजना है। इंडस्ट्री के सूत्रों के अनुसार लगभग 30000 करोड़ रुपये का कारोबार है और भारतीय स्नैक्स इंडस्ट्री प्रतिस्पर्धी और विकास के दौर में है। प्रीमियम और हेल्दी स्नैक्स अभी भी शुरुआती दौर में ही है, लेकिन बजार में इनका अनुमानित आकार लगभग 900-1000 करोड़ रुपये है और यह प्रतिवर्ष 22-25% की दर से बढ़ रहा है। तेजी से बढ़ते प्रीमियम सेगमेंट में व्यापक संभावनाएँ हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

वैश्विक इकोनॉमी मे रिकवरी की उम्मीद से कच्चे तेल को मिला प्रोत्साहन, निवेशक सोने से दूर हुए

नई दिल्ली : चीनी अर्थव्यवस्था में सुधार की उम्मीद ने पिछले हफ्ते सोने की कीमतों पर नकारात्मक प्रभाव डाला है। सोने की कीमतों में पिछले आगे पढ़ें »

सरकार जल्द दे सकती है दो से तीन लाख करोड़ रुपये के बूस्टर पैकेज, इन क्षेत्रों को होगा फायदा

नई दिल्ली : कोरोना के कारण देश की अर्थव्यवस्था को लगातार नुकसान का सामना करना पड़ रहा है। उद्योग को पटरी पर लाने और नुकसान आगे पढ़ें »

ऊपर