विदेशी निवेशकों ने बाजार से निकाले 5600 करोड़ रुपये

नयी दिल्लीः पिछले पांच कारोबारी सत्रों में पूंजी बाजार से विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने 5,600 करोड़ रुपये की निकासी की है। उन्होंने लगातार इससे पहले दो महीनों में निवेश किया था। डिपॉजिटरी के आंकड़ों के अनुसार तीन से सात सितंबर के बीच एफपीआई ने शेयर बाजार से 1,021 करोड़ रुपये और ऋण बाजार से 4,628 करोड़ रुपये की निकासी की। इस प्रकार कुल निकासी 5,649 करोड़ रुपये की रही। अगस्त में एफपीआई ने 2,300 करोड़ रुपये का निवेश किया था। इससे पहले अप्रैल से जून के बीच विदेशी निवेशकों ने 61,000 करोड़ रुपये की निकासी की थी।
क्या है कारण
ताजा निकासी का अहम कारण बाजार विशेषज्ञों के अनुसार रुपये की कीमत में गिरावट और कच्चे तेल की कीमतों का बढ़ना है। एफपीआई निवेश को लेकर बाजार नियामक सेबी के दिशानिर्देशों से भी बाजार में चिंता का माहौल है। कमजोर वैश्विक बाजारों ने भी इस पर असर डाला है।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

टैक्सैब ने जिम्मेदार अभिभावक अधिनियम राष्ट्रपति को सौंपा

नई दिल्ली : टैक्सपेयर्स एसोसिएशन ऑफ भारत ( टैक्सैब ) के अध्यक्ष मनु गौड़ द्वारा तैयार किया गया जिम्मेदार अभिभावक अधिनियम 2019 का ड्राफ्ट आज महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को सौंपा गया। पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं सांसद डॅा. संजीव बलियान, [Read more...]

वोडाफोन आइडिया जुटाएगी 20,000 करोड़, बेचेगी मोबाइल टावर और आप्टिकल फाइबर एसेट्स

नई दिल्ली : वोडाफोन आइडिया 20,000 करोड़ रुपये जुटाने की तैयारी कर रही है। इसके लिए कंपनी इंडस टावर में हिस्सेदारी और आप्टिकल फाइबर संपत्तियों की बिक्री करेगी। कंपनी इस राशि का इश्तेमाल अपने कर्ज को उतारने के लिए करेगी। उद्योग [Read more...]

मुख्य समाचार

जावेद और शबाना ने रद्द किया दौरा तो बौखलाए पाकिस्तान ने बोल दिया कुछ ऐसा कि…

नई दिल्लीः जम्मू एवं कश्मीर के पुलवामा में आतंकवादी हमला होने के बाद वरिष्ठ भारतीय अभिनेत्री शबाना आजमी और उनके गीतकार-लेखक पति जावेद अख्तर द्वारा उनका कराची दौरा रद्द करने के बाद 'आर्ट्स काउंसिल ऑफ पाकिस्तान'  ने इन दोनों की [Read more...]

पुलवामा हमले के मामले में 23 लोग हिरासत में, जैश-ए-मोहम्मद से संबंधों का है शक

नई दिल्लीः कश्मीर में पुलवामा हमले के मामले में सेना ने 23 लोगों को शक के आधार पर हिरासत में लिया है। सुरक्षाबलों को शक है कि इनका संबंध संगठन जैश-ए-मोहम्मद से हो सकता है। बता दें कि 14 फरवरी [Read more...]

ऊपर