एनक्लैट ने मैक्डोनाल्ड्स के इस सहयोगी पर बिना इजाजत विदेश जाने पर रोक लगाई

नई दिल्ली : नेशनल कंपनी लॉ अपीलेट टिब्यूनल (एनक्लैट) ने मैक्डोनाल्ड्स और उसकी भारतीय सहयोगी रही सीपीआरएल के मालिक विक्रम बख्शी को आपसी समझौते पर रोक लगाते हुए डीआरटी से इजाजत लिए बगैर विदेश जाने पर रोक लगा दी है।  एनक्लैट ने कहा है कि वह अमेरिकी फास्ट फूड चेन मैक्डोनाल्ड्स और उत्तर-पूर्वी भारत में उसकी सहयोगी रही कनॉट प्लाजा रेस्टोरेंट्स प्राइवेट लिमिटेड (सीपीआरएल) के बीच हुए सौदे की समीक्षा करेगी।

वहीँ टिब्यूनल के मुताबिक सीपीआरएल के मालिक विक्रम बख्शी द्वारा सीपीआरएल में अपने शेयर मैक्डोनाल्ड्स के हाथों बेचने संबंधी सौदे की समीक्षा की जाएगी। चेयरमैन जस्टिस एसजे मुखोपाध्याय की अध्यक्षता वाली दो सदस्यीय खंडपीठ ने कहा कि मैक्डोनाल्ड्स और विक्रम बख्शी के बीच हुआ समझौता डेट रिकवरी टिब्यूनल (डीआरटी) के आदेशों का उल्लंघन है और इसका क्रियान्वयन रोका जाए।

भारत में मैक्डोनाल्ड्स के स्टोर चलाने का अधिकार दो कंपनियों को मिला था जो उत्तर व पूर्वी भारत में कंपनी के स्टोर विक्रम बख्शी नियंत्रित सीपीआरएल चलाती थी, जबकि पश्चिम और दक्षिण भारत के लिए यह अधिकार अमित जाटिया नियंत्रित वेस्टलाइफ डेवलपमेंट के पास है। सीआरपीएल ने वर्ष 1995 में 50:50 हिस्सेदारी के साथ अगले 25 वर्षो के लिए मैक्डोनाल्ड्स स्टोर चलाने का अधिकार लिया था।

हालांकि वर्ष 2013 में विक्रम बख्शी को सीपीआरएल के एमडी पद से हटा दिया गया और वे तत्कालीन कंपनी लॉ बोर्ड की शरण में चले गए। एनसीएलटी ने 14 जुलाई, 2017 को उनका पद बहाल कर दिया, जिसके खिलाफ मैक्डोनाल्ड्स ने एलक्लैट में याचिका लगाई और तब मैक्डोनाल्ड्स ने रॉयल्टी भुगतान न होने का हवाला देकर सीपीआरएल फ्रैंचाइज करार खत्म कर दिया। बाद में मैक्डोनाल्ड्स ने विक्रम बख्शी के साथ सुलह इंकार कर दिया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

hongkong

हांगकांग ‘लोकतंत्र अधिनियम’ पारित, चीन ने दी कड़ी प्रतिक्रिया

वाशिंगटन : हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनकारियों की मांग वाले एक विधेयक को अमेरिकी प्रतिनिधि सभा ने मंगलवार को पारित कर दिया, जिसका उद्देश्य उस आगे पढ़ें »

रतन टाटा खुद को मानते हैं ‘एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक’, कई बड़ी कंपनियों में है हिस्सेदारी

नई दिल्ली : उद्योगपति और टाटा समूह के चेयरमैन रतन टाटा ने खुद को 'एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक' माना है। उन्होंने दर्जनभर से ज्यादा स्टार्टअप कंपनियों आगे पढ़ें »

court

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने 40 दिन की सुनवाई के बाद फैसला सुरक्षित रखा

ayodhya

अयोध्या मामला : मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कहा, शीर्ष न्यायालय के फैसले को स्वीकार किया जाना चाहिए

अमेरिकी प्रतिबंधों के पालन के लिए भारत अपना नुकसान नहीं करेगा: वित्त मंत्री

russia

तुर्की और सीरिया की लड़ाई में रूस बना दीवार, तैनात की अपनी आर्मी

sitaraman

अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद ‘मानवाधिकार’ विश्व स्तर पर ज्वलंत शब्द बन गया : सीतारमण

chetak

बजाज ने पेश किया इलेक्ट्रिक चेतक स्कूटर, सामने आया पहला लुक

rail

रेलवे ने शुरू की नई योजना, अब फिल्म प्रमोशन के लिए हो सकेगी ट्रेनों की बुकिंग

modi

पीएम मोदी बोले- राष्ट्र निर्माण का आधार है सावरकर के संस्कार

ऊपर