एचडीएफसी बैंक ने एफडी की ब्याज दरों में किया बदलाव, जानिए क्या है नई ब्याज दरें

नई दिल्ली: निजी क्षेत्र की बैंक एचडीएफसी बैंक ने दो करोड़ रुपये की राशि से नीचे की फिक्स्ड डिपॉजिट (एफडी ) राशि पर ब्याज की दर में बदलाव किया है।  नई ब्याज दरें 22 जुलाई, 2019 से लागू हो गई हैं। आपको बता दें कि एचडीएफसी निजी क्षेत्र में लोन देने वाला देश का सबसे बड़ा संस्थान है, जो अपने कस्टमर को सात दिन से लेकर 10 साल तक की अवधि वाले अलग-अलग एफडी जमा पर 3. 50 प्रतिशत से लेकर 7. 30 प्रतिशत तक सालाना ब्याज दे रहा है।

वहीं बैंक सात दिनों से लेकर 29 दिनों में मेच्योर होने वाली एफडी पर ब्याज दर में कोई बदलाव नहीं किया गया है, यह दर 4. 25 प्रतिशत पर कायम है। बैंक के अधिकारियों के मुताबिक एचडीएफसी बैंक ने 30 दिनों से लेकर छह महीने, छह महीने से लेकर एक साल तक में मेच्योर होने वाली एफडी पर ब्याज में बदलाव किया है। इसके अलावा लॉन्ग टर्म टैक्स सेविंग एफडी पर मिलने वाले ब्याज दर में भी बदलाव किया है।

बदलाव के बाद एचडीएफसी बैंक 30 से लेकर 45 दिनों की एफडी पर सामान्य नागरिक को 5. 50 प्रतिशत और वरिष्ठ नागरिकों को 6. 00 प्रतिशत ब्याज ऑफर कर रहा है। पहले यह दरें क्रमश: 5. 75 प्रतिशत और 6.25 प्रतिशत थीं। इसी तरह 46 दिन से लेकर 6 महीने की एफडी जमा पर ब्याज को 6. 25 प्रतिशत से घटाकर 6. 00 प्रतिशत कर दिया है।

एक साल की अवधि वाले एफडी पर ब्याज दर में 0. 20 प्रतिशत की कटौती कर दी गई है जो कि अब यह 7. 10 प्रतिशत हो गया है। सीनियर सिटिजन को हमेशा 0. 50 प्रतिशत अधिक ब्याज मिलता है। एक साल से दो साल तक की एफडी पर भी ब्याज दर में कटौती ही की गई है, जो अब 7. 30 से घटकर 7.20 प्रतिशत रह गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

महाराष्‍ट्र के गृहमंत्री ने दी राहुल को नसीहत-सावरकर का करें सम्‍मान

मुंबई : वीर सावरकर को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बयान पर घमासान मचा हुआ है। शिवसेना नेता और महाराष्ट्र के गृहमंत्री एकनाथ शिंदे आगे पढ़ें »

nirbhaya

निशानेबाज ने केंद्र को खून से लिखा पत्र, जताई निर्भया के दोषियों को फांसी पर लटकाने की इच्छा

लखनऊ : अंतरराष्ट्रीय निशानेबाज वर्तिका सिंह ने केंद्र सरकार को खून से लिखे पत्र में गुजारिश की कि उन्हें निर्भया कांड के दोषियों को फांसी आगे पढ़ें »

ऊपर