ईपीएस-95 के तहत पेंशनभोगियों को 7,500 रुपये मासिक पेंशन मिलने की संभावना

नयी दिल्ली : कर्मचारी पेंशन योजना-95 के अंतर्गत आने वाले पेंशनभोगियों को अंतरिम राहत के राहत के रूप में न्यूनतम 5,000 रुपये मासिक मिल सकता है और यह अंततः 7,500 रुपये हो सकता है। इस मामले को आगे बढ़ा रहे संगठन ने श्रम मंत्रालय से मिले आश्वासन के आधार पर यह कहा है। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) द्वारा प्रबंधित कर्मचारी पेंशन योजना 1995 (ईपीएस-95) के तहत फिलहाल पेंशन 1,000 रुपये मासिक है।
आल इंडिया ईपीएस-95 पेंशनर्स संघर्ष समिति ने एक बयान में कहा कि श्रम मंत्रालय ने एक बैठक प्रतिनिधमंडल को उक्त आश्वासन दिया।

प्रतिनिधियों के साथ मंत्रालय की छह दिसंबर 2017 को बैठक हुई थी। संगठन के अनुसार मंत्री ने समिति को आश्वस्त किया कि न्यूनतम पेंशन 7,500 रुपये मासिक करने समेत उनकी अन्य मांगों पर प्रधानमंत्री के साथ-साथ विथ मंत्रालय के साथ चर्चा की जाएगी। पेंशनभोगियों के संगठन ने मांग की थी कि ईपीएस-95 के अंतर्गत आने वाले सभी 60 लाख पेंशनभोगियों को न्यूनतम मासिक पेंशन 7,500 रुपये तथा अंतरिम राहत के रूप में 5,000 रुपये दिये जाएं। संगठन ने कहा कि श्रम पर संसद की सलाहकार समिति ने भी उनकी मांगों पर पांच जनवरी को हुई अपनी बैठक में चर्चा की। इससे पहले, संघर्ष समिति ने कहा था कि करीब 60 लाख पेंशनभोगी हैं। इनमें से 40 लाख को 1,500 रुपये मासिक से भी कम पेंशन मिल रहा है जबकि सरकार के पास 3 लाख करोड़ रुपये का पेंशन कोष है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

Adhir Ranjan Chowdhury

संसद में गांधी परिवार की एसपीजी सुरक्षा हटाने पर जवाब मागेंगे अधीर रंजन

नई दिल्ली : कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि संसद के शीतकालीन सत्र में पार्टी गांधी परिवार समेत कई नेताओं की एसपीजी सुरक्षा आगे पढ़ें »

gogoi

आज सीजेआई रंजन गोगोई हो रहे हैं रिटायर, पत्नी के साथ भगवान वेंकटेश्वर के किए दर्शन

त्रिरुमला : शीर्ष न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई रविवार 17 नवंबर यानी आज सेवानिवृत हो रहे हैं। उन्होंने अपनी पत्नी रूपनाजलि गोगोई के साथ आगे पढ़ें »

ऊपर