इन कारणों से आई डाबर के शेयर में गिरावट

नई दिल्ली : एफएमसीजी क्षेत्र की कंपनी डाबर के शेयर में जबरदस्त गिरावट देखी गई है। डाबर के शेयर लगभग 3.5 फीसदी की कमजोरी के साथ शेयर बाजार में कारोबार कर रहा था। डाबर के शेयर में गिरावट की मुख्य वजह यह है कि डाबर के शेयर को रेटिंग एजेंसी गोल्डमैन सेक्स ने न्यूट्रल से घटा कर सेल कर दी है। मतलब रेटिंग एजेंसी इस शेयर को बेचने का सुझाव दे रही है।

रेटिंग एजेंसी गोल्डमेन सेक्स ने डाबर के शेयरों के लिए जो लक्ष्य निर्धारित किया है वो लगभग 334 रुपये का है। ये मौजूदा भाव से लगभग 17 फीसदी तक कम है। दरअसल डाबर का कारोबार देश के ग्रामीण इलाकों में अधिक है, ग्रामीण इलाकों में कृषि व गैर कृषि क्षेत्र में काम कर रहे लोगों की आय में कमी आई है, इस क्षेत्र के लोगों के क्रय करने की क्षमता पर असर पड़ रहा है। ऐसे में डाबर की बिक्री पर भी असर पड़ेगा। आने वाले समय में मानसून के देरी से आने के चलते भी कृषि क्षेत्र में काम करने वाले लोगों की आय पर असर पड़ेगा।

इसके अलावा डाबर के मुख्य सेगमेंट में पिछले कुछ समय में प्रतस्पर्धा काफी बढ़ गई है। रेटिंग एजेंसी का मानना है कि जूस सेगमेंट में डाबर को आईटीसी और पेप्सिको से काफी कड़ा कॉम्पटीशन मिल रहा है। वहीं हेयर केयर में कंपनी को बजाज और मैरिको जैसी कंपनियों से कड़ी प्रतिस्पर्धा मिल रही है। वहीं अगर ओरल केयर में कई देशी विदेशी कंपनियों का वर्चस्व कायम है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

भारतीय बैंकों का क्रेडिट ग्रोथ घटकर दो साल के निचले स्तर पर आया : आरबीआई

नई दिल्ली : आरबीआई के आंकड़ों के मुताबिक भारतीय बैंकों का क्रेडिट ग्रोथ घटकर लगभग दो साल के निचले स्तर पर आ गया है, क्योंकि आगे पढ़ें »

hongkong

हांगकांग ‘लोकतंत्र अधिनियम’ पारित, चीन ने दी कड़ी प्रतिक्रिया

वाशिंगटन : हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनकारियों की मांग वाले एक विधेयक को अमेरिकी प्रतिनिधि सभा ने मंगलवार को पारित कर दिया, जिसका उद्देश्य उस आगे पढ़ें »

रतन टाटा खुद को मानते हैं ‘एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक’, कई बड़ी कंपनियों में है हिस्सेदारी

court

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने 40 दिन की सुनवाई के बाद फैसला सुरक्षित रखा

ayodhya

अयोध्या मामला : मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कहा, शीर्ष न्यायालय के फैसले को स्वीकार किया जाना चाहिए

अमेरिकी प्रतिबंधों के पालन के लिए भारत अपना नुकसान नहीं करेगा: वित्त मंत्री

russia

तुर्की और सीरिया की लड़ाई में रूस बना दीवार, तैनात की अपनी आर्मी

sitaraman

अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद ‘मानवाधिकार’ विश्व स्तर पर ज्वलंत शब्द बन गया : सीतारमण

chetak

बजाज ने पेश किया इलेक्ट्रिक चेतक स्कूटर, सामने आया पहला लुक

rail

रेलवे ने शुरू की नई योजना, अब फिल्म प्रमोशन के लिए हो सकेगी ट्रेनों की बुकिंग

ऊपर