इंडो रूसी कंपनियां मिलकर बनाएंगी एके 203 असॉल्ट राइफल

नई दिल्ली : रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने नई दिल्ली में एक उच्च स्तरीय बैठक में एके 203 असॉल्ट राइफलों के उत्पादन के लिए उत्तर प्रदेश के कोरवा में हाल ही में लगाए गए कारखाने इंडो रूसी राइफल्स प्राइवेट लिमिटेड के संचालन की समीक्षा की। इस फैक्ट्री का उद्घाटन 03 मार्च 2019 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया था।

माना जा रहा है कि इस कारखाने में हर साल लगभग 7.50 लाख एके 203 असॉल्ट राइफलें बनाई जाएंगी। इंडो रूसी राइफल्स प्राइवेट लिमिटेड भारत और रूस का एक साझा प्रोजेक्ट है। इस फैक्ट्री में बनने वाली एके 203 असॉल्ट राइफलें स्वदेशी इंसास राइफलों की जगह लेंगी। इन राइफलों को पूरी तरह से मेक इन इंडिया प्रोजेक्ट के तहत बनाया जाएगा। इस कारखाने को लगाने में लगभग 12 हजार करोड़ रुपये का खर्च आया है।

50 फीसदी भारत की हिस्सेदारी

इस कारखाने में भारत की हिस्सेदारी 50. 5 फीसदी होगी। वहीं इसमें रूस की हिस्सेदारी 49. 5 फीसदी की है।
क्या खास है एके 203 राइफल में
• एके 203 राइफल एके 47 राइफल का आधुनिक रूप है
• एके 203 राइफल 400 मीटर के दायरे से 100 फीसदी सटीक वार कर सकती है
• इंसास और एके 47 के मुकाबले यह राइफल छोटी और हल्की है
• एके 203 में आसानी से नाइट विजन डिवाइस लगाई जा सकती है
• एके 203 राइफल की कुल लम्बाई 3.25 फुट होगी
• एके 203 राइफल से एक मिनट में 600 गोलियां फायर की जा सकती हैं

शेयर करें

मुख्य समाचार

वॉलमार्ट और फ्लिपकार्ट ने भारतीय स्टा र्टअप निंजाकार्ट में किया निवेश

नई दिल्ली: वॉलमार्ट और फ्लिपकार्ट ने निंजाकार्ट में संयुक्त निवेश की घोषणा की है। निंजाकार्ट अपने मेड-फॉर-इंडिया बिजनेस-टु-बिजनेस (बी2बी) सप्ला्ई चेन इन्फ्रास्ट्रक्चर और टेक्नोलॉजी सॉल्यूशंस आगे पढ़ें »

दुनिया के उद्योगपति बंगाल में करें निवेश – ममता

बंगाल आपका स्वागत करता है : सीएम दीघा में शुरू हुआ दो दिवसीय बंगाल ​पिजनेस कांक्लेव सन्मार्ग संवाददाता दीघा : नये उद्योग में निवेश के लिए बंगाल की आगे पढ़ें »

ऊपर