आरबीआई के निर्देश के बाद इस सरकारी बैंक ने सस्ती की लोन की दरें

नई दिल्ली : सरकारी बैंक एसबीआई ने ग्राहकों को राहत देते हुए एमसीएलआर की दरों में सभी अवधि के लिए 0.05 फीसद तक कटौती की है। इसके बाद होम, ऑटो और पर्सनल लोन सस्ता हो जाएगा। नई दरें 10 नवंबर से प्रभावी होंगी। बैंक ने 10 अक्टूबर 2019 को भी एमसीएलआर में 0.10 फीसद तक की कटौती की थी।

आपको बता दें कि आरबीआई ने इस साल अब तक रेपो रेट में पांचवीं बार कटौती की है। केन्द्रीय बैंक ने कुल 135 बेसिस पॉइंट्स की कमी की है। बैंक का इस बारे में कहना है कि अब एक साल के लिए नई एमसीएलआर दरें 8.05 फीसद से घटकर 8 फीसद पर आ गई है। बैंक ने मौजूदा वित्त वर्ष में लगातार सातवीं बार दरें घटाई हैं।

वहीं निजी क्षेत्र के बड़े बैंक एचडीएफसी ने एमसीएलआर में 10 बेसिस पॉइंट्स तक की कटौती की है। बैंक ने 6 महीने के एमसीएलआर के लिए 5 बेसिस पॉइंट्स की कटौती की है, जिसके बाद यह 8.1 फीसद हो गया है। 1 साल की अवधि के लिए 5 बेसिस पॉइंट्स की कटौती के बाद यह 8.3 फीसद हो गया है। 2 साल के टेन्योर के लिए 5 बेसिस पॉइंट्स की कटौती के बाद यह 8.4 फीसद और 3 साल की अवधि के लिए 10

बेसिस पॉइंट्स की कटौती के बाद 8.5 फीसद हो गया है। सभी दरें 7 नवंबर से प्रभावी हैं।
आपको बता दें कि आरबीआई ने रेपो रेट में कटौती करने के बाद सभी बैंकों से कहा है कि वह कटौती का लाभ तुरंत ग्राहकों को दें।

शेयर करें

मुख्य समाचार

Jagdip Dhankhar

धनखड़ के खिलाफ विधान सभा से संसद तक मोर्चाबंदी

कोलकाता : ऐसा पहली बार हुआ है जब विधानसभा में सत्ता पक्ष ने धरना दिया। कारण थे राज्यपाल जगदीप धनखड़, जिन पर विधेयकों को मंजूरी आगे पढ़ें »

मेरे कंधे पर बंदूक रखकर चलाने की को​शिश न करें – धनखड़

कोलकाता : राज्यपाल जगदीप धनखड़ और तृणमूल सरकार के बीच संबंधों में मंगलवार को और खटास आ गयी जब उन्होंने ‘कछुए की गति से काम आगे पढ़ें »

ऊपर