आईपीपीबी में तब्दील होंगे देश के सभी डाक घर

नई दिल्लीः देश में इंडियन पोस्ट पेमेंट बैंक (आईपीपीबी) की सभी 650 शाखाएं अप्रैल, 2018 तक शुरू हो जाएंगी। इस बात की जानकारी संचार मंत्री मनोज सिन्हा ने दी। सिन्हा ने लोकसभा में पूछे गए एक प्रश्न के लिखित जवाब में कहा कि भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने आईपीपीबी को 20 जनवरी 2017 को पेमेंट बैंक गतिविधियों के लिए लाइसेंस जारी किया था और उसके बाद से आईपीपीबी ने 30 जनवरी 2017 के दो पॉयलट शाखाएं खोली हैं, जिसमें से एक छत्तीसगढ़ के रायपुर में तथा दूसरा झारखंड के रांची में काम कर रहा है।
मिलेंगी ये सुविधाएं
मंत्री ने कहा ‘आईपीपीबी का लक्ष्य पूरे भारत में पहुंचने का है। देश भर के सभी डाकघरों (करीब 1.55 लाख) को आईपीपीबी की शाखाओं में बदला जाएगा, जहां पेमेंट्स पर आरबीआई के मौजूदा दिशा निर्देशों के मुताबिक बैंकिंग उत्पाद और सेवा प्रदान की जाएंगी’।
भारत सरकार का महत्वकांक्षी परियोजना
विदित हो कि पेमेंट्स बैंक देश में अधिकतम जनसंख्या तक बैंकिंग और वित्तीय सेवाएं पहुंचाने के लिए भारत सरकार का एक महत्वाकांक्षी परियोजना है। देश में पेमेंट्स बैंक की शुरुआत करने वाली पहली कंपनी एयरटेल थी। यह एक नए तरह का बैंकिंग प्रणाली है जिसमें आप एक लाख रुपए तक जमा कर सकते हैं।
देश में है 4 पेमेंट्स बैंक
वर्तमान में देश में चार पेमेंट्स बैंक है एयरटेल पेमेंट्स बैंक, इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक, पेटीएम पेमेंट्स बैंक और फिनो पेमेंट्स बैंक।

शेयर करें

मुख्य समाचार

भारतीय टीम मुझ पर निर्भर नहीं, कई खिलाड़ी मुझसे बेहतर : छेत्री

कोलकाता : भारत के लिए रिकार्ड गोल करने वाले सुनील छेत्री पर बांग्लादेश के खिलाफ मंगलवार को होने वाले विश्व कप क्वालीफायर मुकाबले में गोल आगे पढ़ें »

आईसीसी टेस्ट रैंकिंग : स्मिथ के करीब पहुंचे कोहली

कोहली ने 37 अंकों की लम्बी छलांग लगायी, नंबर वन बनने से दो अंक पीछे दुबई : भारतीय कप्तान विराट कोहली ने पुणे में दक्षिण अफ्रीका आगे पढ़ें »

ऊपर