आईएलएंडएफएस की 82 कंपनियां रेड सुची में हुई शामिल

नई दिल्ली : आईएलएंडएफएस समूह की दो और कंपनियों ने अपनी देनदारी चुकने में खुद को अक्षम बताया है, जिसके बाद इस समूह में ऐसी कंपनियों की संख्या 82 हो गई हैं। कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय द्वारा राष्ट्रीय कंपनी कानून अपीली न्यायाधिकरण में दाखिल एक हलफनामे के अनुसार कुल रेड कंपनियों की संख्या अब 82 है, जो शुरू में 80 थीं।

वहीं ग्रीन कंपनियां जो अपनी सभी देनदारियों का भुगतान करने में सक्षम हैं, उनकी संख्या 5 की वृद्धि के साथ 55 हो गई हैं। जो कंपनियां सिर्फ संचालन भुगतान और सीनियर सेक्योर्ड ऋण देनदारियां चुकता करने में सक्षम हैं, वे अंबर कंपनियां हैं और जो सीनियर सेक्योर्ड फायनेंशियल क्रेडिटर्स की भी देनदारियां चुकता करने में अक्षम हैं, वे रेड कंपनियां हैं।

ये दोनों कंपनियां जो रेड श्रेणी में शामिल हुई हैं वे झारखंड इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड और उड़ीसा प्रोजेक्ट डेवलपमेंट कंपनी लिमिटेड हैं। ग्रीन श्रेणी में शामिल हुईं नई कंपनियों में गुजरात इंटरनेशनल फायनेंस टेक-सिटी कंपनी लिमिटेड, मंगलोर सेज लिमिटेड, न्यु तिरुपुर एरिया डेवलपमेंट कॉरपोरेशन, ओएनजीसी त्रिपुरा पॉवर कंपनी और कैनोपी हाउसिंग एंड इंफ्रास्ट्रक्चर शामिल हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

Rain water spoil the crops

बारिश प्रभावित किसानों को 700 करोड़ रुपये के राहत पैकेज-गुजरात सरकार

अहमदाबाद : गुजरात सरकार ने बुधवार को उन किसानों के लिये 700 करोड़ रुपये के राहत पैकेज की घोषणा की जिनकी राज्य में इस साल आगे पढ़ें »

3-D View of moon

चंद्रयान-2 ने चंद्रमा की सतह की थ्रीडी तस्वीर भेजी

नई दिल्ली : भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने बुधवार को पहली बार चंद्रमा की सतह की थ्रीडी तस्वीर जारी की। इसरो ने यह तस्वीर आगे पढ़ें »

ऊपर