आईआईटी जैसे संस्थानों की कैंटीन की होगी जांच

नयी दिल्लीः भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी), भारतीय प्रबंधन संस्थान (आईआईएम) और अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) समेत देश के 10 बड़े शैक्षणिक संस्थानों की कैंटीन में भारतीय खाद्य सुरक्षा एवं मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआई) ने खाद्य सुरक्षा जांच के आदेश दिए हैं। एफएसएसएआई ने कहा कि यह जांच सूचीबद्ध 15 एजेंसियों द्वारा की जाएगी और इसकी रपट एक माह में सौंपी जानी है।

क्या है कारण

खाद्य सुरक्षा और स्वच्छता मानकों के संबंध में शिकायतें मिलने के बाद यह आदेश दिया है।विभिन्न शिक्षण संस्थानों के छात्रावासों और कैंटीनों से इस संबंध में शिकायत प्राप्त हुई हैं। खाद्य नियामक एफएसएसएआई ने एक बयान में कहा, इन शिकायतों को देखते हुए 10 चुनिंदा केंद्रीय उच्च शिक्षण संस्थानों की कैंटीन, कैफेटेरिया और छात्रावास की रसोइयों की खाद्य सुरक्षा जांच के आदेश दिए हैं। इनमें दिल्ली, मुंबई, चेन्नई और गुवाहाटी के आईआईटी, दिल्ली और जोधपुर के एम्स और अहमदाबाद एवं कोझीकोड के आईआईएम के साथ-साथ आईआईएससी बेंगलौर और आईआईएसईआर कोलकाता भी शामिल हैं।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

SKODA ने 15.49 लाख रुपये में ऑक्टेविया का कॉरपोरेट संस्करण लॉन्च किया

नई दिल्ली : स्कोडा ऑटो (Skoda Auto) इंडिया ने अपनी प्रीमियम सेडान कार ऑक्टेविया (Octavia) का 'कॉरपोरेट संस्करण' 15.49 लाख में पेश किया है. ऑक्टेविया का 1.4 टीएसआई (एमटी) पेट्रोल इंजन ऑक्टेविया कॉरपोरेट संस्करण की कीमत 15.49 लाख रुपये है, जबकि [Read more...]

विमानन कंपनियों के बढ़ते किराए को लेकर DGCA करेगी बैठक

नई दिल्ली : एक तरफ केंद्र सरकार उड़ान योजना के जरिए आम लोगों तक विमानन सेवा पहुंचाना चाहती है तो वही दूसरी तरफ विमान कंपनियां अपना किराया बढ़ा रही हैं. नागर विमानन महानिदेशालय (DGCA) ने हवाई किराए में लगातार हो [Read more...]

मुख्य समाचार

भारत-भूटान सीमांत शहर जयगांव से 55 लाख के साथ 4 गिरफ्तार

अलीपुरद्वार/कोलकाताः अलीपुरद्वार जिले के भारत-भूटान सीमांत शहर जयगांव से सोमवार को चुनाव आयोग के अधिकारियों और पुलिस की संयुक्त छापेमारी में 55 लाख रुपये सहित चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया। अलीपुरद्वार जिले के अतिरिक्त पुलिस [Read more...]

पुलिस की नाक के नीचे हो रही थी गांजे की खेती, हुआ पर्दाफाश

झाड़ग्राम : झाड़ग्राम में पुलिस की नाक के नीचे ही पिछले काफी समय से गांजे की खेती की जा रही थी जिसका आखिरकार पर्दाफाश हुआ। गोपीबल्लभपुर इलाके में पुलिस और आबकारी विभाग ने मिलकर गांजे की खेती [Read more...]

ऊपर