अब कर्मचारियों के हाथ आ सकती है जेट एयरवेज की कमान

Fallback Image

मुबंईः वित्तीय संकट से जूझ रही जेट एयरवेज को खरीदने के लिए अभी तक उसके संभावित खरीदारों ने भी कोई रुचि नहीं दिखाई है। इससे इस बात की आशंका बढ़ गई है कि कंपनी को दिवालिया प्रक्रिया का सामना करना पड़ेगा। जेट एयरवेज के कर्मचारियों ने गुरुवार को एसबीआई कैपिटल के अधिकारियों से मुलाकात कर अपने प्रस्ताव पर चर्चा की।

बोली प्रक्रिया में शामिल हो बाहरी निवेशक

एसबीआई कैपिटल के अधिकारियों ने जेट के कर्मचारियों से कहा है कि देनदारियों के लिहाज से एयरलाइन की वित्तीय हालत बेहद खराब है। जेट के कर्मचारियों ने 29 अप्रैल को कहा था कि वो एयरलाइन को टेकओवर करने के लिए तैयार हैं। उन्होंने 3,000 करोड़ रुपये लगाने के लिए बाहरी निवेशक तैयार कर लिए हैं। इसलिए उन्हें बोली में शामिल होने का मौका दिया जाए। जेट एयरवेज के लिये बोली लगाने की योजना बना रहे कर्मचारी समूह के प्रतिनिधियों ने गुरुवार को एसबीआई कैपिटल मार्केट के अधिकारियों के साथ बैठक की और बोली प्रक्रिया से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की।

कर्मचारी समूहों में चल रही है अहम बैठक

जेट एयरवेज के कर्जदाता 8400 करोड़ रुपये के कर्ज की रिकवरी के लिए एयरलाइन की हिस्सेदारी बेच रहे हैं। एसबीआई की मर्चेंट बैंकिंग शाखा एसबीआई कैप्स बोली की प्रकिया का संचालन कर रही है। प्राइवेट इक्विटी फर्म टीपीजी कैपिटल, इंडिगो पार्टनर्स, नेशनल इन्वेस्टमेंट एंड इन्फ्रास्ट्रक्चर फंड (एनआईआईएफ) और एतिहाद एयरवेज जेट में हिस्सेदारी खरीदने की दौड़ में हैं।

गौरतलब है कि कभी देश के सबसे बड़े निजी एयरलाइंस रहे जेट को अपना कामकाज गत 17 अप्रैल को बंद करने पर मजबूर होना पड़ा था। कर्जदारों ने कंपनी को और कर्ज देने से मना कर दिया था। गौरतलब है कि फिलहाल जेट एयरवेज 8,500 करोड़ रुपये से अधिक के कर्ज में डूबी हुई है। इस वजह से जेट एयरवेज के पायलटों सहित अन्य कर्मचारियों को कई महीनों से सैलरी नहीं रही है। कंपनी में करीब 22,000 कर्मचारी हैं। इनमें करीब 16,000 कर्मचारी कंपनी के पेरोल पर हैं और 6 हजार अनुबंध पर हैं।

जेट एयरवेज की बोली लगाने के लिए मुख्य तौर पर 4 फर्म ने शुरुआती दौर में चार रुचि दिखाई थी-एतिहाद एयरवेज, राष्ट्रीय निवेश कोष, निजी क्षेत्र के टीपीजी कैपिटल और इंडिगो है। ब्रिटेन के युवा कारोबारी जेसन अंसवर्थ ने भी जेट एयरवेज को नियंत्रण में लेने की इच्छा जाहिर की थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल में तीसरे दिन भी कोरोना के 800 से ज्यादा मामले, 25 की हुई मौत

कोलकाता : वेस्ट बंगाल कोविड-19 हेल्थ बुलेटिन के अनुसार पश्चिम बंगाल में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 850 नये मामले आये है आगे पढ़ें »

कोरोना की वजह से 9वीं-12वीं के पाठ्यक्रम 30 फीसदी घटे

नयी दिल्ली : कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच स्कूलों के ना खुल पाने के कारण शिक्षा व्यवस्था पर असर और कक्षाओं के समय में आगे पढ़ें »

ऊपर