प्रेसिडेंसी के मुख्य द्वार पर ही विद्या की देवी की वंदना आज

206 साल में पहली बार छात्रों द्वारा की जायेगी सरस्वती पूजा, तैयारी पूरी
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : प्रेसिडेंसी विश्वविद्यालय में सरस्वती पूजा होगी। 206 साल के इतिहास में पहली बार छात्रों द्वारा सरस्वती पूजा का आयोजन किया गया है, हालांकि यह पूजा प्रेसिडेंसी के भीतर नहीं बल्कि मुख्य द्वार पर होगी। बुधवार की दोपहर ही टीएमसीपी के छात्रों द्वारा मां सरस्वती की प्रतिमा लायी गयी। गेट के सामने ही पूजा मंडप बनाया गया है। वहीं छात्रों में इस दिन काफी उत्साह देखा गया। प्रेसिडेंसी में टीएमसीपी के को ऑर्डिनेटर प्रांतिक चक्रवर्ती ने कहा कि यहां पहली बार छात्रों द्वारा पूजा का आयोजन हाे रहा है। प्रेसिडेंसी में टीएमसीपी के सेक्रेटरी कल्लोल कर्मकार ने कहा कि नॉन टीचिंग स्टाफ पहले से पूजा करते थे मगर छात्रों द्वारा पहली बार पूजा की जा रही है और यह परंपरा जारी रहेगी। वहीं पूर्व छात्रा रजन्य हालदार पूजा करेंगी। उसने बताया कि वह काफी खुश है कि विश्वविद्यालय के छात्रों द्वारा पूजा की जा रही है। बता दें कि प्रेसिडेंसी विश्वविद्यालय में इस बार टीएमसीपी की तरफ से सरस्वती पूजा के आयोजन के लिये विश्वविद्यालय प्रबंधन से अनुमति मांगी गयी, लेकिन ‘कंटेंट नॉट वेरिफाइड’ लिखा गया। वहीं प्रेसिडेंसी विश्ववद्यालय डेरोजियन आदर्श में भरोसा रखता है। इसलिए यहां कोई धर्माचार करना संभव नहीं है। इसके बाद भी छात्र पूजा करने पर अड़े रहे। गुरुवार को पूजा के लिए तैयारी कर ली गयी है। सभी छात्रों को पूजा में शामिल होने का आह्वान किया गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

म​हिला ने फांसी लगाकर कर ली खुदकुशी

नदिया: नकासीपाड़ा थाना इलाके की निवासी गौरी शील (50) ने सोमवार की सुबह अपने घर के रसोई में फंदे से झूलकर आत्महत्या कर ली। बताया आगे पढ़ें »

जूता पहने ही राज्यपाल पहुंचे प्रार्थना स्थल पर

बैरकपुर : राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर बैरकपुर स्थित गांधी घाट पर प्र​ति वर्ष की तरह इस साल भी राज्यपाल, राज्य के मंत्री व आगे पढ़ें »

ऊपर