सांसद प्रसून बनर्जी ने यह क्या कह दिया !

मदन के अलावा किसी और को खेल मंत्री नहीं मानता – प्रसून
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : एक बार फिर अपने बयान को लेकर सांसद प्रसून बनर्जी चर्चा में आ गये। हावड़ा सदर से सांसद प्रसून ने मदन मित्रा की तारीफ करते हुए कुछ ऐसा कह दिया कि जिसकी चौतरफा चर्चा होने लगी। पार्टी नेताओं की भौंहे तन गयी। प्रसून बनर्जी का यह बयान एक तरह से मंत्रिमंडल पर ही सवाल खड़ा कर दिया। दरअसल, बाली के एक कार्यक्रम में वक्तव्य रखते हुए प्रसून ने कहा कि वे मदन के अलावा किसी और खेल मंत्री नहीं मानते हैं। मदन ने जितना काम किया वह प्रसंशनीय है। सांसद ने कहा कि तृणमूल सरकार में कोई खेल मंत्री हो सकते हैं वे एक मात्र मदन मित्र हैं और किसी को खेल मंत्री नहीं मानता हूं, मुझे तो आश्चर्य हो रहा है कि मंत्रिमंडल में मदन का नाम नहीं है। मैं सांसद के रूप में बोल रहा हूं कि मुझे वाकई आश्चर्य हो रहा हूं। जब प्रसून मदन की तारीफ कर रहे थे तो कमरहटी के विधायक मदन बगल में ही खड़े थे। वायरल वीडियो में सांसद ने यह भी कहा कि हमने एक फुटबॉल अकादमी बनायी, मशहूर फुटबॉल अकादमी। गौतम सरकार निर्देशक थे। रातोंरात हो गयी। मदन मित्रा ने खेल के लिए जो किया है वह अद्वितीय है।
वहीं तृणमूल प्रवक्ता कुणाल घोष ने कहा कि यह किसी का व्यक्तिगत मत हो सकता है क्योंकि मंत्रिमंडल को कैसे सजाना है यह पूरी तरह से सीएम ममता बनर्जी पर निर्भर करता है। इसलिए किसी की मंत्तव्य पर ध्यान नहीं दे सकते हैं।
सांसद के बयान पर विपक्ष ने ली चुटकी
वहीं सांसद के बयान पर विपक्ष ने चुटकी ली है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि तृणमूल में मंत्री बनने के लिये क्या पैरामीटर हैं ये हमें नहीं पता लेकिन मदन मित्रा को ममता बनर्जी कभी मंत्री नहीं बनायेंगी। भाजपा नेता राहुल सिन्हा ने कहा कि वर्तमान में मदन मित्रा का कोई वजन नहीं है। इसलिए वे अलग थलग पड़े हुए है। दूसरों से अपनी प्रशंसा करवा रहे हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

आज जिलों में पूजा कार्निवल, कल कोलकाता में

जलपाईगुड़ी में नहीं होगा कार्निवल सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : आज शुक्रवार को विभिन्न जिलों में पूजा कार्निवल होगा। कल शनिवार 8 अक्टूबर काे कोलकाता रेड रोड पर आगे पढ़ें »

नम आंखों से मां को दी गयी विदायी, घाटों पर उमड़ी भीड़

विसर्जन की व्यवस्था देखने बाबूघाट पहुंचे मेयर अगरे साल से कुली कराएंगे प्रतिमाओं का विसर्जन सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : चार दिनों की रौनक के बाद दशमी से मां आगे पढ़ें »

ऊपर