अपने सफर के दूसरे दिन फिर हमले का शिकार हुआ वंदे भारत

– वंदे भारत पर जमकर हुई पत्‍थरों की बरसात
– ट्रेन के खिड़की के कई ग्लास टूटे
– असुरक्षित महसूस कर रहे यात्री
– राज्य पुलिस की मदद से रेलवे पुलिस ने शुरू की कार्रवाई
सन्मार्ग संवाददाता
सिलीगुड़ी : वंदे भारत एक्सप्रेस पर 24 घंटे में दोबारा निशाना साधा गया। मंगलवार को फिर वंदे भारत एक्सप्रेस पर पत्‍थरों की बरसात हुई। व्यापक पत्‍थरबाजी में वंदे भारत के सी3 व सी6 नंबर कोच के खिड़की के शीशे टूट गये। वंदे भारत के दूसरे व तीसरे दिन के सफर में हुए हमलों की घटना से इसकी यात्रियों में दहशत व्याप्त है। यात्री वंदे भारत में सफर करना असुरक्षित महसूस कर रहे है। यात्रियों की सुरक्षा के साथ ही वंदे भारत की सुरक्षा पर भी सवाल उठने लगे हैं।
रेल सूत्रों के अनुसार वंदे भारत ने तीसरे दिन की सफर मंगलवार को निर्धारित समय पर हावड़ा से अपनी यात्रा शुरू की थी। निर्धारित समय पर ही ट्रेन एनजेपी की ओर दौड़ रही थी। लेकिन एनजेपी पहुंचने से पहले ही ट्रेन वंदे भारत फिर हमले का शिकार हो गया। बताया जा रहा है कुछ लोगों ने फिर वंदे भारत एक्सप्रेस पर जमकर पत्‍थर फेंके।
उत्तर-पूर्व सीमांत रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी सव्यसाची दे ने कहा घटना की जांच शुरू हो गयी है। रेल पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी है। साथ ही राज्य पुलिस से सहयोग लिया जा रहा है। उन्होंने कहा वंदे भारत रेलवे का गर्व है। इस ट्रेन पर हमले की घटना की उन्होंने तीव्र निंदा की। लोगों को जागरूक करना होगा।
कटिहार रेल मंडल के डीआरएम शुभेंदु कुमार चौधरी ने बताया की वंदे भारत ट्रेन पर दूसरी बार पत्थर फेक कर कांच तोड़ने का मामला प्रकाश में आया है। रेलवे एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। आरोपी जल्द ही गिरफ़्त में होंगे। चौधरी ने कहा की इस मामले में स्टेट पुलिस की भी मदद ली जा रही है। साथ ही उन्होंने कहा की वंदे भारत में सफ़र करने वाले यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए ट्रेन में विशेष सुरक्षा कि व्यवस्था की गई है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

मंगलवार को 11 पीपल के पत्तों से ऐसे करें …

कोलकाताः हिंदू धर्म में मंगलवार का दिन सबसे शुभ दिन में से माना जाता है। इस दिन हनुमान जी की पूजा की जाती है। भगवान आगे पढ़ें »

मैं कोलकाता में ही हूं, ईडी कार्यालय में फोन कर कहा ​अभियुक्त गोपाल दलपति ने

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : मैं कोलकाता में हूं, मैं ईडी के समक्ष पेश होना चाहता हूं। एसएससी मामले के अभियुक्त गोपाल दलपति ने ईडी कार्यालय में आगे पढ़ें »

ऊपर