एसएससी मामले में तृणमूल के युवा नेता से सीबीआई ने की डेढ़ घंटे पूछताछ

अगर मैं दोषी होता तो क्या सीबीआई मुझे छोड़ देती : युवा नेता
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : एसएससी मामले में हुगली के तृणमूल के युवा नेता कुन्तल घोष से सीबीआई की टीम ने डेढ़ घंटे पूछताछ की। सूत्रों की माने तो सीबीआई के समक्ष मानिक भट्टाचार्य के करीबी तापस मंडल ने कुन्तल घोष का नाम बताया था। उन्होंने आरोप लगाया था कि 19 करोड़ से अधिक की राशि टेट उम्मीदवारों से कुन्तल ने इकट्ठी की थी। इसी का जवाब देने के लिए कुन्तल अपने वकील के साथ सीबीआई के समक्ष बुधवार को उपस्थित हुए थे। पूछताछ के बाद उन्होंने कहा कि अगर मैंने पैसा लिया होता तो क्या सीबीआई अधिकारी मुझे छोड़ देते ? कुन्तल ने कहा कि तापस का भी कॉले​ज था, इसलिए उनसे सिर्फ जान-पहचान थी। तापस मंडल का खुद चार्जशीट में नाम है, उनके आरोपों के बारे में मुझे कुछ नहीं बोलना। हुगली तृणमूल के युवा नेता कुन्तल घोष बुधवार को निजाम पैलेस में पेशी के लिए आए तो उन्होंने अपने ऊपर लगे आरोपों से इनकार किया। सूत्रों की माने तो सीबीआई ने पूछताछ में कई अहम सवाल किये। इसमें उनके कॉलेज एसोसियेशन के बारे में पूछा गया। क्या उनके संगठन के छात्रों को नौकरी मिली थी ? सीबीआई ने उनसे ऑफ लाइन रेजिस्ट्रेशन, रुपये से संबंधित रसीद तथा कई अन्य दस्तावेजों के बारे में पूछताछ की, जिसकी जानकारी कथित तौर पर तापस ने सीबीआई को दी थी। तापस मंडल ने सीबीआई के समक्ष कुन्तल घाेष के साथ लेनदेन के पेपर भी जमा किया था। उस बारे में भी सीबीआई ने उनसे सवाल किये।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कल ही उनकी सरकार गिर गयी थी, किसी प्रकार बची

- बंगाल का बकाया रुपया नहीं दिया तो होगा आंदोलन - ममता बर्दवान : कल उनकी सरकार गिर गई थी। कुछ लोगों को फोन कर उनसे आगे पढ़ें »

राज्यपाल को लेकर भाजपा ने दी गृह मंत्रालय को रिपोर्ट

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : गत नवम्बर महीने में पश्चिम बंगाल के स्थायी राज्यपाल बने डॉ. सी. वी. आनंदा बोस के बारे में भा​जपा नेताओं ने सोचा आगे पढ़ें »

ऊपर