पार्टी का झंडा लगाने को लेकर आपस में भिड़े तृणमूल कार्यकर्ता, जख्मी तीन

tmc

पानागढ़ : राज्य के सभी जिलों में दीदीर सुरक्षा कवच को लेकर तृणमूल की ओर से विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। इसके तहत लोगों को राज्य सरकार की सभी योजनाओं का लाभ दिलाने के लिए विशेष प्रयास करने का निर्देश दिया गया। वहीं बुदबुद में मामला कुछ और ही दिखने लगा। बुदबुद में पार्टी का झंडा लगाने को लेकर तृणमूल कार्यकर्ताओं के बीच मारपीट से इलाके में तनाव व्याप्त हो गया है। तृणमूल कार्यकर्ताओं से मारपीट करने का आरोप पंचायत के उपप्रधान पर लगा है। वहीं घटना की शिकायत उच्च नेतृत्व से की गई है। मारपीट में जख्मी हुए एक पंचायत सदस्य के पति समेत तीन कार्यकर्ताओं को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। उल्लेखनीय है कि पंचायत चुनाव से पहले तृणमूल कार्यकर्ताओं में मारपीट होने से विरोधी दलों को बैठे-बिठाए आक्रमण करने का एक सुनहरा मौका मिल गया है। इस दौरान गलसी एक नंबर ब्लॉक के तृणमूल अध्यक्ष जनार्दन चटर्जी एवं बुदबुद ग्राम पंचायत के उपप्रधान रूद्र प्रसाद कुंडू के समर्थक आमने-सामने हैं। इस संदर्भ में बुदबुद ग्राम पंचायत के उपप्रधान रूद्र प्रसाद कुंडू ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं को देखकर तृणमूल कर्मियों का दिमाग खराब हो जाता है। विगत विभिन्न चुनाव के मौके पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने तृणमूल कर्मियों से मारपीट की थी, इसके बावजूद तृणमूल कार्यकर्ताओं ने अपनी जान जोखिम में डालकर अपने प्रत्याशियों को भारी मतों से जीत दिलाई थी। वहीं बुधवार को कुछ दलबदलू भाजपा कार्यकर्ता तृणमूल का झंडा बांध रहे थे, इस दौरान स्थानीय लोगों ने दलबदलू भाजपा कार्यकर्ताओं का विरोध किया। वहीं मारपीट करने का आरोप बिल्कुल बेबुनियाद है। भाजपा समर्थित दलबदलू कार्यकर्ता नाटक कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि तृणमूल ब्लॉक अध्यक्ष जनार्दन चटर्जी भाजपा की दलाली कर रहे हैं। वहीं उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा से आये लोगों को तृणमूल ब्लॉक कमेटी में शामिल किया गया है पर वर्ष 1998 से तृणमूल करने वाले सक्रिय सदस्यों को महत्व नहीं दिया जा रहा है। विभिन्न ग्रामीण अंचलों में रहने वाले लोगों की अनेक शिकायतें हैं। तृणमूल ब्लॉक अध्यक्ष स्थानीय भाजपा कार्यकर्ताओं को लेकर संगठन बना रहे हैं। वहीं गलसी एक नंबर ब्लॉक के तृणमूल अध्यक्ष जनार्दन चटर्जी ने कहा कि मानसिक रूप से बीमार लोगों के कारण संगठन का कार्य कभी रुक नहीं सकता है। उन्होंने पंचायत के उपप्रधान रूद्र प्रसाद कुंडू की तुलना पागल कुत्ते से कर दी। साथ ही उन्होंने बताया कि उन्होंने इस घटना की शिकायत पार्टी के उच्च नेतृत्व की है। आगे की कार्रवाई पार्टी के उच्च नेतृत्व द्वारा दिए गए आदेश के अनुसार की जाएगी। वहीं मारपीट में जख्मी हुए कार्यकर्ताओं को अपनी रक्षा के लिए जरूरी सभी कदम उठाने की पूरी आजादी है। उन्होंने कहा कि बुधवार को पंचायत सदस्य रेखा साव ने उपप्रधान रूद्र प्रसाद कुंडू के साथ बैठक की थी। इसके कुछ देर बाद उपप्रधान के समर्थकों ने पंचायत सदस्य के पति राकेश साव पर हमला कर दिया। वहीं इस घटना के खिलाफ पुलिस को उचित कार्रवाई करने के आदेश दिए गए हैं। उल्लेखनीय है कि मारपीट में जख्मी हुए तृणमूल कार्यकर्ता ब्लॉक अध्यक्ष जनार्दन चटर्जी के समर्थक हैं। इस दौरान जख्मी हुए तृणमूल कार्यकर्ताओं ने कहा कि दीदीर सुरक्षा कवच कार्यक्रम को लेकर वे लोग जगह-जगह पार्टी का झंडा बांध रहे थे, इसी दौरान रूद्र प्रसाद कुंडू के समर्थकों ने अचानक उनपर हमला कर दिया। उन्होंने कहा कि इस स्थिति में तृणमूल कार्यकर्ता संगठन के लिए कैसे काम करेंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

मंगलवार को 11 पीपल के पत्तों से ऐसे करें …

कोलकाताः हिंदू धर्म में मंगलवार का दिन सबसे शुभ दिन में से माना जाता है। इस दिन हनुमान जी की पूजा की जाती है। भगवान आगे पढ़ें »

मैं कोलकाता में ही हूं, ईडी कार्यालय में फोन कर कहा ​अभियुक्त गोपाल दलपति ने

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : मैं कोलकाता में हूं, मैं ईडी के समक्ष पेश होना चाहता हूं। एसएससी मामले के अभियुक्त गोपाल दलपति ने ईडी कार्यालय में आगे पढ़ें »

ऊपर