गंगासागर मेला में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था, ड्रोन से निगरानी

गंगासागर : विश्व प्रसिद्ध गंगासागर मेला में जिला प्रशासन की ओर से तीर्थयात्रियों के लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। गंगासागर मेले में तीर्थ यात्रियों की भीड़ पिछले साल की तुलना में काफी अधिक है। इस बीच गुरुवार की सुबह सागर तट पर पुण्य स्नान के लिए देश के विभिन हिस्से से तीर्थयात्री आए हैं। गुरुवार को बहुत सारे तीर्थयात्रियों ने अतिरिक्त भीड़ से बचने का हवाला देकर मकर संक्रांति के पूर्व ही पुण्य की डुबकी लगा कर पूजा अर्चना की। तीर्थयात्रियों ने मेला परिसर में सुरक्षा व्यवस्था को लेकर संतोष प्रकट किया। इस बार मेला प्रांगण में तीर्थयात्रियों कि सुविधा हेतु सुंदरवन पुलिस ने पिछले बार की तुलना में अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया है। मेला प्रांगण में 13000 पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है। कुछ अनुभवी होम गार्ड भी तैनात किये गये हैं। पुलिस के 30 वरिष्ठ अधिकारी मेले में तैनात हैं। पुलिस व्यवस्था को 12 सेक्टरों में बांटा गया है। भीड़ को नियंत्रित के लिए भी बफर जोन बनाए गए हैं। पुलिस की तरफ से 21 कंट्रोल रूम बनाए गए हैं। 91 बाइकें पेट्रोलिंग कर रही हैं। 19 लांच पेट्रोलिंग कर रहे हैं। पुलिस की तरफ से सैकड़ों सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए 519 ड्राॅप गेट, 29 पुलिस बूथ, 37 वाच टावर, 4 वाटर एम्बुलेंस की व्यवस्था की गई है। सादे लिवास में पुलिस की टीम समुद्र तट पर गश्त लगा रही है। पुलिस की विनर टीम लॉट 8 , कचुबेरिया, सागर तट पर तैनात है। सुंदरवन पुलिस सीसीटीवी कैमरे के अलावा ड्रोन के जरिए भी मेला परिसर में नजरदारी चला रही है। पुलिस किसी भी संदिग्ध व्यक्ति को देख कर उससे पूछताछ कर रही है। गंगासागर मेले में तीर्थयात्रियों ने जिला प्रशासन के कार्य को काफी सराहा है। गंगासागर मेले में कई जगहों से आए तीर्थयात्रियों ने जिला प्रशासन की व्यवस्था पर खुशी जाहिर की। पहली बार दिल्ली से आई रामरती ने कहा कि जिला प्रशासन की जो व्यवस्था है उससे लगता है कि गंगा सागर एक बार नहीं बार-बार आना चाहिए। राजस्थान से आए प्रेमचंद सैनी ने कहा कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के कारण गंगासागर मेला में बहुत परिवर्तन हुआ है।
हावड़ा के लिलुआ से आए मोहन लाल शर्मा ने बताया की सरकार की व्यवस्था अच्छी है। आरती देवी ने कहा कि गंगासागर मेला सही में विश्व प्रसिद्ध मेला है यहां पर बार-बार आने की इच्छा हो रही है। तीर्थयात्रियों की सुरक्षा के लिए 51 किमी. बैरिकेडिंग की गई है।
गंगासागर तट पर ड्रोन उड़ाया गया
जिला प्रशासन की ओर से गंगासागर मेला में काफी संख्या में ड्रोन उड़ा कर
विभिन्न घाटों की ​निगरानी की जा रही है। मेला परिसर में 21 ड्रोन से नजरदारी की जा रही है।
समुद्र तट पर सुरक्षा को लेकर माइकिंग
जिला प्रशासन की ओर से मेला में घूम रहे तीर्थयात्रियों को समुद्र में तट पर नहाने के दौरान अधिक गहराई में नहीं जाने को लेकर सतर्क किया जा रहा है। एनडीआरएफ की टीम सागर तट पर निरंतर गश्त लगा रही है।
मेगा कण्ट्रोल रूम : गंगासागर मेला के दौरान मेगा कण्ट्रोल रूम के जरिये 12 सौ कैमरे और 100 कर्मी मेले की हर गतिविधि पर नजर रख रहे हैं।
आईपीएस अधिकारी सुकेश जैन ने सड़क संख्या दो का दौरा किया : आईपीएस अधिकारी सुकेश जैन ने गंगासागर की सड़क संख्या दो का दौरा कर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

लेटर पैड का इस्तेमाल कर रुपये लेने का आरोप, भाजपा नेता को शो कॉज

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : पार्टी के लेटर पैड का इस्तेमाल कर व्यावसायिक संगठन से लंबे समय से काफी रुपये का चंदा लेने का आरोप बांकुड़ा जिला आगे पढ़ें »

फेसबुक पर हुआ प्रेम, घर से भागकर की शादी पर दो साल के अंदर फंदे से लटकता मिला शव

हरिदेवपुर इलाके की घटना आरोप - दहेज प्रताड़ना से तंग आकर युवती ने की आत्महत्या सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : पहले सोशल मीडिया के जरिए उसकी युवक से दोस्ती आगे पढ़ें »

ऊपर