ट्रेड लाइसेंस में इस बार टारगेट पूरा करेगा निगम

लक्ष्य है 65 करोड़ पर तीन महीने में ही वसूल लिया 27 करोड़
ऑनलाइन पद्धति से बढ़ी ट्रेड लाइसेंस धारकों की संख्या
सिंकी सिंह
कोलकाता : प्रोपर्टी टैक्स के बाद अब कोलकाता नगर निगम ने लाइसेंस विभाग के बकाया रेवेन्यू कलेक्शन पर अपना फोकस किया है। कोरोना काल के दौरान ट्रेड लाइसेंस विभाग की हालत बेहद ही खस्ता हो गई थी, लेकिन एक बार फिर इस विभाग ने बकाया कर को वसूलने का कार्य युद्धस्तर पर शुरू कर दिया है। निगम के लाइसेंस विभाग के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार ट्रेड लाइसेंस से इस वर्ष 65 करोड़ रेवेन्यू कलेक्शन का टारगेट रखा गया था लेकिन जिस तरह से कार्य चल रहा है वैसे लाइसेंस विभाग ने तीन महीने में ही 27 करोड़ रुपये वसूल लिये हैं। ऐसे में कयास लगाया जा रहा है कि आगामी दुर्गापूजा तक निगम अपने टारगेट को पूरा कर लेगा। इसके बाद ट्रेड लाइसेंस से होने वाले रेवेन्यू कलेक्शन निगम के राजस्व में वृद्धि करेगा।
ट्रेड लाइसेंस को ट्रैक करेगा निगम
कोलकाता नगर निगम अब ट्रेड लाइसेंस को भी ट्रैक करेगा क्योंकि ऑनलाइन प्रक्रिया के शुरू होने से लाइसेंस को ट्रैक करना आसान हो गया है। इसके साथ ही अगर कोई व्यवसाय को बंद करना चाहे तो उसके लिये भी निगम मुख्यालय आने की जरूरत नहीं पड़ेगी। ऑनलाइन फॉर्म भरकर भी अपने व्यवसाय को वह बंद कर सकता है।
ऑनलाइन पद्धति से बढ़ी ट्रेड लाइसेंस धारकों की संख्या
कोलकाता नगर निगम के लाइसेंस विभाग ने लाइसेंस की प्रक्रिया को बहुत आसान कर दिया है। आवेदकों को लाइसेंस से जुड़ी जटिलताओं से न जूझना पड़े इसे ध्यान में रखते हुए निगम की ओर से ऑनलाइन प्रक्रिया को शुरू कर दिया गया है। ऐसे में अब ऑफलाइन की तुलना में ऑनलाइन लाइसेंस लेने की प्रक्रिया में तेजी आई है क्योंकि ऑनलाइन आवेदन कर कुछ मिनटों में ही ट्रेड लाइसेंस मिल जा रहा है। गौरतलब है कि प्रत्येक वर्ष लगभग 50 हजार से अधिक लोगों को निगम लाइसेंस मुहैया कराता है और अब ऑनलाइन पद्धति से संख्या में और भी बढ़ोतरी होने की संभावना है।
ट्रेड लाइसेंस रिन्यू न कराने वालों को लेकर निगम अलर्ट
ट्रेड लाइसेंस रिन्यू नहीं कराने वाले लोगों की भी कोलकाता नगर निगम की ओर से एक तालिका तैयार की जा रही है। ऐसे व्यवसायी जिन्होंने काफी लंबे समय से ट्रेड लाइसेंस रिन्यू नहीं कराया है उनके खिलाफ निगम कानूनी कार्रवाई भी कर सकता है।​ निगम सूत्रों की मानें तो महानगर में लगभग 7 लाख लोग ऐसे हैं जो ट्रेड लाइसेंस लेकर अपना व्यवसाय कर रहे हैं लेकिन उनमें से लगभग 3 लाख 75 हजार व्यवसायी ही समय पर अपना लाइसेंस रिन्यू करवाते हैं। कई ऐसे छोटे-बड़े व्यवसायी हैं जिन्होंने व्यवसाय तो शुरू किया लेकिन लाइसेंस रिन्यू नहीं कराया, ऐसे मामले में उनके खिलाफ भी कार्रवाई की जा सकती है।
एक नजर
लाइसेंस धारकों की संख्या : लगभग 7 लाख
लाइसेंस रिन्यू कराने वालों की संख्या : लगभग 3 लाख 75 हजार

शेयर करें

मुख्य समाचार

माल हादसे के मृतकों के परिजनों को क्षतिपूर्ति, दिए जाएंगे…..

मालबाजार: माल नदी का जल स्तर बढ़ने से आयी बाढ़ की चपेट में मृतकों के परिजनों को क्षतिपूर्ति की घोषणा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कार्यालय की आगे पढ़ें »

मो. अली पार्क के निकट पूजा ड्यूटी कर रहे पुलिस कर्मी की अस्वाभाविक मौत

कोलकाता : महा दशमी की सुबह मो. अली पार्क के निकट पूजा ड्यूटी कर रहे पुलिस कर्मी की अस्वाभाविक परिस्थितियों में मौत हो गई। घटना जोड़ासांको आगे पढ़ें »

ऊपर