24 को हो सकती है तेज बारिश, 25 काे असर दिखायेगा चक्रवात ‘सितरांग’

* 90 – 100 की होगी स्पीड
* पूर्व मिदनापुर, उत्तर व दक्षिण 24 परगना में दिखेगा सबसे ज्यादा असर
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : बंगाल में दस्तक देने जा रहा है चक्रवात ‘सितरांग’। मौसम विभाग ने 24 अक्टूबर को दिवाली के दौरान भारी बारिश का अनुमान जताया है। वहीं 25 अक्टूबर को चक्रवात ‘सितरांग’ ज्यादा असर दिखा सकता है। 90 – 100 कि.मी. प्रति घंटा की स्पीड से चक्रवात के आने की संभावना है। यानी अम्फान के आधे की यह स्पीड होने की संभावना जतायी गयी। मौसम विभाग ने कहा कि चक्रवाती तूफान के कारण सोमवार और मंगलवार को अलग-अलग स्थानों पर मध्मय से बहुत भारी बारिश होने का अनुमान है। यह चक्रवात ओडिशा के करीब से होते हुए बंगाल व बांग्लादेश की ओर मुड़ सकता है। मौसम विभाग ने बताया कि इसका लैंडफॉल बांग्लादेश का तटीय क्षेत्र व बंगाल का बॉर्डर होगा। ‘सितरांग’ का सबसे ज्यादा असर तीन जिलों पूर्व मिदनापुर, उत्तर 24 परगना व दक्षिण 24 परगना पर पड़ेगा। बंगाल में लैंडफॉल का क्षेत्र सुंदरवन बताया गया है जहां विशेष तैयारी की जा रही है।
कोलकाता में 40 की स्पीड से चलेगी हवा
कोलकाता में जिला की तुलना में असर कम दिख सकता है लेकिन बारिश होती रहेगी। रविवार, साेमवार, मंगलवार इन तीन दिनों तक बारिश होगी। 25 अक्टूबर को 30 से 40 की स्पीड में हवा चलेगी। 25 को कोलकाता में गरज के साथ बारिश होगी।
ऐसे करीब आता जायेगा सितरंग
बताया जा रहा है कि रविवार से मौसम में बदलाव आयेगा। रविवार को गहरे दबाव क्षेत्र में तब्दील हो सकता है। चक्रवात पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश की ओर बढ़ेगा। मौसम विभाग ने कहा है कि 23 से अलर्ट पर रहना होगा। 24 से बारिश तेज हो जायेगी वहीं 25 अक्टूबर को चक्रवात अपना रूप दिखायेगा। इसका सबसे ज्यादा असर दक्षिण बंगाल के जिलों में रहेगा। अलीपुर मौसम विभाग के डायरेक्टर गणेश दास ने कहा कि सुंदरवन में सबसे ज्यादा असर दिख सकता है। थोड़ा बहुत हर जिलों में असर दिख सकता है।
संभावित खतरे को देखते हुए राज्य सरकार की तैयारी
चक्रवात के मद्देनजर बंगाल सरकार पूरी अलर्ट पर है। तूफान के खतरे को देखते हुए तटवर्ती क्षेत्रों से लोगों को हटाने का काम शुरू कर दिया गया है। शुक्रवार को नवान्न में राज्य के मुख्य सचिव एच के द्विवेदी ने जिलों के डीएम व अन्य प्रशासनिक अधिकारियों के साथ अहम बैठक की। सभी को निर्देश दिया गया है कि चक्रवात को देखते हुए हर तरह की तैयारी की जाए। दमकल विभाग, एनडीआरएफ के कर्मियों को किसी भी आपात स्थिति के लिए तैयार रहने को कहा गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

पंचायत चुनाव : गांवों की सड़कों को किया जाएगा सपाट

राज्य सरकार ने जारी किया 714 करोड़ 50 लाख रुपया केंद्र ने हाल ही में दिया है 584 करोड़ का फंड सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : राज्य में पंचायत आगे पढ़ें »

किस्मत से जुड़ा होता है गुलाब का फूल, वास्तु के ये उपाय बनाएंगे आपको धनवान

कोलकाता : हमारे जीवन में जिस तरह पेड़-पौधों का महत्व है, उसी तरह फूलों का भी विशेष महत्व होता है। घर को महकाने से लेकर आगे पढ़ें »

ऊपर