मायके से खाली हाथ लौटी, सजा में जिंदा जला दिया

दर्दनाक मौत -पहले एसिड से जलाया फिर किरोसिन से
-पति समेत चार लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज, सभी आरोपित फरार
-दो दिनों तक जिंदगी व मौत से जूझती रही महिला
मालदह : कालियाचक थानांतर्गत जालुआबाधाल इलाके में एक गृहवधू को जिंदा जला दिए जाने की निर्मम घटना सामने आई है। गृहवधू का नाम शिउली बीबी है। वह मात्र २३ साल की थी। इस मामले में गृहवधू के पति समेत चार लोगों के खिलाफ थाने में शिकायत दर्ज कराई गई है। शिउली का कसुर था कि वह मायके से दहेज के अतिरिक्त पैसे नहीं लाई थी। मृत महिला के बड़े भाई पिंटु शेख ने कहा कि पति समेत ससुराल के चार लोगों के खिलाफ कालियाचक थाना में शिकायत दर्ज कराई गई है। सभी आरोपित फरार है। शिउली के परिवार ने आरोपियों की सख्त सजा की मांग की हैं।
क्या है घटना – छह साल पहले शिउली बीबी व सैफुद्दीन की शादी हुई थी। सैफुद्दीन पेशे से श्रमिक है। कुछ दिन पहले शिउली बीबी अपने मायके में घुमने गई थी। दो दिन पहले ही लौटी थी। पति-प‌त्नी के बीच इस बात पर झगड़ा हो रहा था कि शिउली अपने मायके से रुपये-पैसे साथ क्यों नहीं लेकर आई। इसी बात पर पति-पत्नी का विवाद हो रहा था कि गुस्साए पति व ससुराल के अन्य सदस्यों ने गृहवधू को मौत के घाट उतार दिया। शिउली के दो बच्चे भी हैं।
बेरहमी से किया गया मर्डर
दहेज के कारण गृहवधू को मौत के घाट उतारना कोई नई खबर नहीं है। आए दिन इस तरह की खबरें अखबारों में प्रकाशित होती रहती है। लेकिन यह मामला थोड़ा अलग है। अलग ही नहीं निर्मम व दर्दनाक है। इंसानियत के लिए कलंक है। गृहवधू का हाथ-पैर बांध कर उसे पहले उसे एसिड से जलाया गया। सिर्फ इतने में दरिंदों का मन नहीं भरा। इसके बाद गृहवधू पर मिट्टी का तेल छिड़क कर उसे जिंदा जला दिया गया। आशंका जनक हालत में उसे मालदा मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में भर्ती कराया गया। दो दिनों तक वह जिंदगी और मौत से जूझती रही। शुक्रवार सुबह वह जिंदगी की जंग हार गई। उसकी मौत हो गई। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

लेदर व्यवसायी के एक दर्जन ठिकानों पर आयकर का छापा

कोलकाता : आयकर विभाग की टीम ने बुधवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए कोलकाता के जानेमाने लेदर व्यवसायी के यहां छापामारी की। सूत्रों की माने आगे पढ़ें »

‘मुझे मार डालो पर पत्नी और बेटे को बख्श दो’ : मानिक

अदालत से निकलते समय रुधे गले से की एडवोकेट से अपील सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : स्कूलों के नियुक्ति घोटाले में अभियुक्त एवं प्राइमरी बोर्ड के पूर्व चेयरमैन आगे पढ़ें »

ऊपर