हाईकोर्ट ने कुणाल घोष को इस मामले में दिखायी ‘हरी झंडी’

कोलकाताः कलकत्ता उच्च न्यायालय ने टीएमसी नेता और प्रवक्ता कुणाल घोष की विदेश यात्रा पर आपत्ति नहीं जताई। कुणाल घोष को उच्च न्यायालय की एक खंडपीठ न्यायमूर्ति जयमाल्या बागची और अजय कुमार गुप्ता की खंडपीठ ने विदेश जाने की अनुमति दे दी। सारदा मामले में जमानत मिलने के 6 साल बाद कुणाल घोष ने विदेश जाने की मांग को लेकर हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। सारदा चिटफंड मामले में उन्हें सशर्त जमानत मिली थी। उनके विदेश यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया गया था।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

लेटर पैड का इस्तेमाल कर रुपये लेने का आरोप, भाजपा नेता को शो कॉज

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : पार्टी के लेटर पैड का इस्तेमाल कर व्यावसायिक संगठन से लंबे समय से काफी रुपये का चंदा लेने का आरोप बांकुड़ा जिला आगे पढ़ें »

फेसबुक पर हुआ प्रेम, घर से भागकर की शादी पर दो साल के अंदर फंदे से लटकता मिला शव

हरिदेवपुर इलाके की घटना आरोप - दहेज प्रताड़ना से तंग आकर युवती ने की आत्महत्या सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : पहले सोशल मीडिया के जरिए उसकी युवक से दोस्ती आगे पढ़ें »

ऊपर