अपने ही बयान में फंसे सुकांत, पीएम की योग्यता पर सवाल

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : ‘योग्यता से अधिक महत्वपूर्ण है विश्वसनीयता।’ इस तरह का बयान देकर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सुकांत मजूमदार अपने ही बयान में फंसते नजर आ रहे हैं। गत गुरुवार को प्रदेश भाजपा के एक कार्यक्रम में सांसद सौमित्र खां के ‘अयोग्य’ वाले बयान का जवाब सुकांत मजूमदार दे रहे थे। दरअसल, साैमित्र खां ने सुकांत मजूमदार को अयोग्य कहा था। इसका जवाब देते हुए सुकांत मजूमदार ने कहा, ‘योग्यता महत्वपूर्ण नहीं है, हमने चाय वाले को प्रधानमंत्री बनाकर यह साबित कर दिया है। महत्वपूर्ण है विश्वसनीयता।’ सुकांत मजूमदार के इस बयान को लेेकर कहा जा रहा है कि उन्होंने देश के प्रधानमंत्री की योग्यता पर सवाल उठा दिये हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बेकार पड़ी चीजों से महज 10 हजार रुपयों की लागत पर बना डाली कार

शांतिपुर के संजय की कार ने खींचा लोगों का ध्यान लॉकडाउन में भतीजे के लिए बनायी गयी कार से मिला आइडिया नदिया : बेकार पड़े सामान की आगे पढ़ें »

इस दिन हनुमान जी की आराधना करने से पाए सफलता, शांति, सुख, शक्ति और साहस

कोलकाता: केसरी और अंजना के पुत्र, हनुमान का जन्म मंगलवार को चैत्र के हिंदू महीने के दौरान पूर्णिमा के दिन हुआ था। भगवान हनुमान को आगे पढ़ें »

ऊपर