एयरपोर्ट पर अचानक अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की संख्या में 50 फीसदी कमी, नये वेरिएंट ने डराया

6 देशों से आने के दौरान कोरोना टेस्ट के झमेले में नहीं पड़ना चाहते यात्री
श्रीलंका ने भी अपने नियमों में किया बदलाव
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : कोलकाता एयरपोर्ट पर अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की संख्या में लगभग 50 फीसदी की कमी आयी है। इसका कारण नया वेरिएंट बताया गया है। नये वेरिएंट के देश में आने के बाद से सभी राज्यों में स्वास्थ्य मंत्रालय से अलर्ट जारी कर दिया गया है। इस पर कार्रवाई करते हुए गत 1 जनवरी से 6 देशों चीन, हांगकांग, जापान, दक्षिण कोरिया, सिंगापुर और थाईलैंड से आने वाले यात्रियों का आरटीपीसीआर टेस्ट अनिवार्य कर दिया गया है। यानी कि बिना कोविड निगेटिव रिपोर्ट के भारत आना अब इन देशों से नामुमकीन है। यही नहीं अन्य देशों से आने वाले यात्रियों जो कि इन 6 देशों से होकर आ रहे हैं, उनके लिए भी आरटीपीसीआर टेस्ट अनिवार्य कर दिया गया है। उन्हें यात्रा से पहले अपनी रिपोर्ट एयर सुविधा पोर्टल पर अपलोड करनी पड़ रही है। इसके साथ ही 2 फीसदी यात्रियों की एयरपोर्ट पर रैंडम टेस्टिंग भी जारी है। भारत की तरह श्रीलंका ने भी अपना नया फॉर्म जारी किया है। इसके तहत वहां जाने व वहां से आने के दौरान डिपार्चर व अराइवल हिस्ट्री देनी पड़ रही है।
बढ़ रही कड़ाई से यात्रियों को हो रही है परेशानी
परिवार के साथ घूमने जाने वालों को अब रिटर्न होने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इस बारे में एयरपोर्ट डायरेक्टर सी. पट्टाभी ने बताया कि इन दिनों विदेश जाने व आने वाले यात्रियों की संख्या कम हो गयी है। पहले कोलकाता से 15 से 20 हजार तक की संख्या में विदेश आने व जाने वाले यात्रियों की संख्या थी, जो कि अब कम हो गयी है। 1 जनवरी को कोलकाता आने वालों की संख्या 3157 थी जबकि कोलकाता से 3156 यात्रियों ने विभिन्न गंतव्यों के लिए उड़ान भरी। वहीं 2 जनवरी को 3341 यात्री कोलकाता आये जबकि 3159 की संख्या में यात्रियों ने कोलकाता से विभिन्न देशों के लिए उड़ान भरी। यही हाल मंगलवार को भी रहा। इस दिन भी आने व जाने वाले यात्रियों की संख्या कम रही। इन दिनों नियमों में कड़ाई के कारण यात्रियों की संख्या में कमी आयी है।
3 जनवरी – 2877 ( अराइवल ), 2755 (डिपार्चर)
4 जनवरी – 3142 ( अराइवल ), 3354 (डिपार्चर)
ट्रैवेल एजेंट ने यह कहा
ट्रैवेल एजेंट्स एसोसियेशन ऑफ इंडिया, ईस्ट के सेक्रेटरी व एयरकॉम ट्रैवेल्स के चेयरमैन अंजनी धानुका ने कहा कि इन दिनों विदेश जाने की बुकिंग में काफी गिरावट आयी है। लगभग 50 फीसदी बुकिंग कम हो गयी है। नये वेरिएंट के पहले लोग उत्साह से विदेश जाने के लिए टिकट कटवा रहे थे। अब इसमें कमी आयी है। कोलकाता से यूरोप जाने वाले यात्रियों के लिए फिलहाल दुबई तथा दोहा का रुट ही सही है। बाकि सिंगापुर और थाईलैंड से भी कोलकाता की अच्छी कनेक्टिवटी है लेकिन वहां से लौटने पर आरटीपीसीआर टेस्ट का रिपोर्ट एयर सुविधा पोर्टल पर अपलोड करने के झमेले से घूमने वाले लोग अभी उस ओर जाना नहीं चाहते।
आंकड़े
तारीख – यात्रियों की संख्या
1 जनवरी – 3157 (अराइवल) , 3156 (डिपार्चर)
2 जनवरी – 3341 (अराइवल), 3159 (डिपार्चर)
3 जनवरी – 2877 ( अराइवल ), 2755 (डिपार्चर)
4 जनवरी – 3142 ( अराइवल ), 3354 (डिपार्चर)

शेयर करें

मुख्य समाचार

राज्यपाल को लेकर भाजपा ने दी गृह मंत्रालय को रिपोर्ट

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : गत नवम्बर महीने में पश्चिम बंगाल के स्थायी राज्यपाल बने डॉ. सी. वी. आनंदा बोस के बारे में भा​जपा नेताओं ने सोचा आगे पढ़ें »

सागरदिघी उपचुनाव के लिए हुआ कांग्रेस और वाम का समझौता

सागरदिघी उपचुनाव के लिए हुआ कांग्रेस और वाम का समझौता सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : 2021 के विधानसभा चुनाव के बाद उपचुनावों में भी वाम-कांग्रेस का समझौता आगे पढ़ें »

ऊपर