‘उत्कर्ष बांग्ला के नाम पर राज्य सरकार बेरोजगारों के साथ कर रही धोखाधड़ी’

खड़गपुर : मिदनापुर के सांसद व भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दिलीप घोष ने राज्य सरकार की उत्कर्ष बांग्ला की खूब खिल्ली उड़ाई। उन्होंने आरोप लगाया कि उत्कर्ष बांग्ला के नाम पर राज्य सरकार की ओर से धांधली की जा रही है। पश्चिम मिदनापुर जिला अंतर्गत खड़गपुर में शनिवार को मीडिया से बात करते हुए घोष ने आरोप लगाया कि राज्य के बेरोजगारों को उत्कर्ष बांग्ला के नाम पर नौकरी के लिए जो नियुक्त पत्र दिया जा रहा है। वह जाली है तथा कई निजी कंपनियां बेरोजगारों को नौकरी नहीं दे रही है। उत्कर्ष बांग्ला के नाम पर जाली नौकरी नियुक्ति पत्र देकर राज्य सरकार बेरोजगारों के साथ धोखाधड़ी कर रही है। इस धांधली के लिए उन्होंने सीएम ममता बनर्जी और सम्बंधित एजेंसियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किए जाने की मांग भी उठाई है। दिलीप घोष ने कहा कि सीएम ममता बनर्जी बोल रही है उनके पास 89 हजार नौकरी है, लेकिन अभी तक किसी एक व्यक्ति को भी नौकरी नहीं मिली है। मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए घोष ने यह भी कहा कि भाजपा के नवान्न अभियान को विफल करने के लिए अकारण पुलिस बल का प्रयोग किया गया। उन्होंने कहा जिस प्रकार सूनामी आता है। ठीक उसी प्रकार नवान्न अभियान से भी भाजपा इस प्रदेश में सूनामी लाई है। सूनामी के बाद लगातार हल्के भूकंप आते हैं। थाना घेराव, युवा मोर्चा का आंदोलन के जरिए अब प्रदेश में भाजपा हल्के भूकंप ला रही है। पार्थ चटर्जी और कल्याणमंय गांगुली को एक साथ बैठाकर सीबीआई द्वारा जिरह किए जाने के प्रसंग के बारे में बोलते हुए घोष ने कहा कि इससे शिक्षक नियुक्ति घोटाले की सच्चाई को पता चल सकेगा। उन्होंने कहा कि राज्य में कोई उद्योग नहीं है। कल कारखाने लगातार बंद होते जा रहे हैं। जिसके कारण ही विश्वकर्मा पूजा महोत्सव को लेकर लोगों में कोई उत्साह नहीं है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

चतुर्थी से महानगर की सड़कों पर सुरक्षा की कमान संभालेंगे पुलिस कर्मी

5 हजार पुलिस और 10 हजार अस्थायी होम गार्ड रहेंगे तैनात तीन शिफ्टों में काम करेंगे पुलिस कर्मी कोलकाता : कोविड काल के बाद इस साल आयोजित आगे पढ़ें »

शुगर से पाना चाहते हैं छुटकारा! आज से ही शुरू करें ये काम

कोलकाताः मौजूदा भाग दौड़ के दौर में शुगर की समस्या बेहद आम हो चली है। खराब खानपान और जीवनशैली के चलते शुगर के मरीजों की आगे पढ़ें »

ऊपर