आसनसोल में भाजपा के कंबल वितरण कार्यक्रम में भगदड़, एक बच्ची समेत 3 मरे

पूर्व मेेयर व भाजपा नेता जितेंद्र तिवारी की ओर से किया गया था कार्यक्रम का आयोजन
शुभेंदु समेत कई भाजपा विधायक हुए थे शामिल
सीपी ने कहा, कार्यक्रम की नहीं थी कोई अनुमति
सन्मार्ग संवाददाता
आसनसोल : आसनसोल के आरके डंगाल में आयोजित कंबल वितरण कार्यक्रम में व्यवस्था चरमराने के कारण मची भगदड़ में एक बच्ची समेत 3 लोगों की मौत हो गयी व कई लोग घायल हो गये। इस कार्यक्रम का आयोजन भाजपा नेता जितेंद्र तिवारी व उनकी पत्नी पार्षद चैताली तिवारी की ओर से किया गया था। बताया जा रहा है कि विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी समेत दूसरे विधायकों के जाने के बाद अव्यवस्था फैली और इस दौरान कंबल लेने की होड़ में भगदड़ मच गयी। प्रशासन ने यह कहते हुए पलड़ा झाड़ लिया कि इस कार्यक्रम की कोई अनुमति नहीं थी। हालांकि इस घटना को लेकर प्रशासनिक व्यवस्था कटघरे में है।
क्या हुई घटना
बुधवार की शाम लगभग 4.30 बजे आरके डंगाल इलाके में स्थानीय भाजपा पार्षद चैताली तिवारी की ओर से कंबल वितरण व शिव चर्चा का आयोजन किया गया था। इसमें लगभग 5,000 लोगों को कंबल वितरित किया जाना था जबकि लगभग 15 हजार लोग कार्यक्रम स्थल पर इकट्ठा हो गये थे। इस कार्यक्रम में पांडवेश्वर, दुर्गापुर, पानागढ़, जामुड़िया, रानीगंज, कुल्टी के अलावा पुरुलिया से भी महिलाएं शामिल हुई थीं। कार्यक्रम में विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी समेत अन्य भाजपा विधायक व नेता भी पहुंचे थे। जानकारी के अनुसार, भाजपा नेता शुभेंदु अधिकारी मंच पर भाषण देकर व 3 महिलाओं को कंबल प्रदान कर चले गये। उनके जाने के बाद कंबल वितरण के लिए माइकिंग कर लोगों को बुलाया जाने लगा तो पहले कंबल लेने की होड़ में लोग एक-दूसरे को धक्का देकर निकलने लगे। देखते ही देखते भगदड़ मच गयी जिसमें एक बच्ची समेत दो वृद्ध महिलाओं की मौत होने के साथ ही कम से कम 10 लोग घायल हो गये। इस घटना में मृतकों में चानमुनी देवी (50) समेत अन्य एक महिला शामिल है जो धाधका के बाईपास झोपड़पट्टी की रहने वाली है। इसके अलावा एक बच्ची भी मृतकों में शामिल है जिसका नाम प्रीति कुमारी (11) है। वहीं इस भगदड़ में प्रमिला देवी, सोना देवी, शोभा देवी तथा प्रतीमा देवी समेत कई लोग घायल हो गये हैं जिनका इलाज आसनसोल जिला अस्पताल में चल रहा है। मामूली रूप से घायल कई लोगों को प्राथमिक इलाज के बाद छोड़ दिया गया।
क्या कहा पुलिस कमिश्नर ने
आसनसोल के पुलिस कमिश्नर सुधीर एन. नीलकांथम ने कहा कि इस कार्यक्रम के लिए पुलिस की ओर से आयोजकों द्वारा कोई अनुमति नहीं ली गयी थी। हालांकि सूत्रों का कहना है कि सभा स्थल पर पुलिस की तैनाती की गयी थी। बताया जा रहा है कि चूंकि विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी कार्यक्रम में पहुंचे थे, इस कारण वीआईपी मूवमेंट को देखते हुए कुछ संख्या में पुलिस माैजूद थी।
आयोजक नहीं थी भाजपा
पार्षद चैताली तिवारी द्वारा कार्यक्रम का आयोजन किया गया था जबकि कार्यक्रम का संचालन मेयर जितेंद्र तिवारी कर रहे थे। हालांकि आसनसोल के भाजपा जिलाध्यक्ष दिलीप दे ने कहा कि कार्यक्रम की आयोजक भाजपा नहीं थी। उन्होंने कहा कि भाजपा नेताओं को केवल कार्यक्रम में आमंत्रित किया गया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

हाते खोड़ी कार्यक्रम के बाद ही दिल्ली पहुंचे राज्यपाल

परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम में वर्चुअल रूप से हुए शामिल, पीएम मोदी को सराहा सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता/नई दिल्ली : राज्यपाल डॉ. सी.वी. आनंदा बोस गुरुवार को हाते आगे पढ़ें »

हावड़ा-पुरी के बीच दौड़ेगी 8 कोच की नई मिनी वंदे भारत ट्रेन

हावड़ा : भारतीय रेलवे 2 रूटों पर मिनी वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन चलाने चल रही है। हावड़ा-न्यूजलपाईगुड़ी के बाद अब रेलवे मंत्रालय अगले महीने से आगे पढ़ें »

ऊपर