कुछ बड़ा होगा 14 को, क्या यही होना था? : कुणाल

Fallback Image

शुभेंदु के डेडलाइन पर कसा तंज
सन्मार्ग संवाददाता
काेलकाता : आसनसोल में कंबल वितरण के कार्यक्रम में कंबल लेने गये लोगों की भीड़ इतनी अधिक थी कि भगदड़ मच गयी। मरने वालों में एक बच्चा भी शामिल है। कार्यक्रम में विपक्ष के नेता व भाजपा विधायक शुभेंदु अधिकारी थे। कहा जा रहा है उनके मंच से जाते ही लोगों की भीड़ बेकाबू हो गयी। पुलिस का कहना है कि कार्यक्रम के लिए इजाजत नहीं दी गयी थी। कुल मिलाकर स्थिति साफ बता रही है कि व्यवस्था में पूरी लापरवाही बरती गयी है। इस पूरी घटना को लेकर तृणमूल के प्रवक्ता कुणाल घोष ने शुभेंदु अधिकारी पर निशाना साधा। कुणाल ने शुभेंदु से सवाल किया कि 14 दिसंबर को क्या यही होना था ?
मालूम हो कि शुभेंदु ने 12 दिसंबर, 14 दिसंबर तथा 21 दिसंबर को कुछ बड़ा होने की चेतावनी देते हुए ममता बनर्जी की सरकार को ये तीन तारीख डेडलाइन के तौर पर दी थी । 12 दिसंबर को बाेगतुई कांड के मुख्य अभियुक्त लालन शेख की सीबीआई कस्टडी में मौत हो गयी। उसका शव बाथरूम में फंदे से लटकता हुआ पाया गया था। वहीं बुधवार 14 दिसंबर को शुभेंदु के ही कार्यक्रम में कंबल वितरण के दौरान भगदड़ में 3 लोगों की दबने से मौत हो गयी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

खेल अकादमी का शुभारंभ

कोलकाता:  फुटबॉल प्रेमियों के लिए अच्छी खबर है। मैनचेस्टर यूनाइटेड के पूर्व कोच पॉल नेरी के सहयोग से एक नई स्पोर्ट्स अकादमी शुरू की गई आगे पढ़ें »

‘हम सुरक्षित नहीं, अभिषेक और मुझे निशाना बना रही BJP’, CM ममता का हमला

बालुरघाट: लोकसभा चुनाव को लेकर बंगाल में सियासी पारा हाई है। आज बालुरघाट में सीएम ममता ने जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ममता आगे पढ़ें »

ऊपर