ताकि दुर्गा पूजा में ना हो ध्वनि प्रदूषण

बनाया जायेगा कंट्रोल रूम, होगी नॉइज मॉनिटरिंग टीम
पंडालों में थर्मोकॉल व सिंगल यूज प्लास्टिक के इस्तेमाल पर रोक
साउंड लिमिटर लगाना अनिवार्य
प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने पूजा कमेटियों को दी गाइडलाइन
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : शुक्रवार को परिवेश भवन में पश्चिम बंग प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के साथ पुलिस और कई पूजा कमेटियों की बैठक हुई जिसमें दुर्गा पूजा के दौरान पर्यावरण के प्रति जागरूकता को लेकर चर्चा की गयी। पूजा कमेटियों को इस दौरान बताया गया कि किस प्रकार पर्यावरण संबंधी नियमों को मानते हुए मूर्तियों का विसर्जन करना है, इसके अलावा ध्वनि प्रदूषण, सिंगल यूज प्लास्टिक व थर्मोकॉल आदि पर रोक को लेकर भी चर्चा की गयी। पीसीबी के मेम्बर सेक्रेटरी डॉ. राजेश कुमार ने कोलकाता, बैरकपुर, विधाननगर व हावड़ा के पुलिस अधिकारियों समेत विभिन्न पूजा कमेटियों का स्वागत करते हुए पूजा कमेटियों से आवेदन किया कि वे माइक्रोफोन में साउंड ​लिमिटर लगायें व सुप्रीम कोर्ट का निर्देश मानते हुए केवल ग्रीन पटाखे ही जलायें।
बनाया जायेगा कंट्रोल रूम
डॉ. राजेश कुमार ने कहा कि शिकायतें ग्रहण करने के लिए कंट्रोल रूम बनाया जायेगा जो शिकायतों को संबंधित पुलिस थानों में भेजेगा। वहीं दुर्गा पूजा के दौरान एक नॉइज मॉनिट​रिंग टीम सड़क पर रहेगी जो यह देखेगी कि पूजा कमेटियों द्वारा पर्यावरण संबंधी नियम मानें जा रहे हैं या नहीं।
ग्रीन पूजा अवार्ड की हुई घोषणा
पीसीबी के चेयरमैन डॉ. कल्याण रुद्र ने इस दौरान ग्रीन पूजा अवार्ड की घोषणा की। सभी तरह के पर्यावरण संबंधी नियमों का पालन जो पूजा कमेटी करेगी, उसे यह अवार्ड पर्यावरण विभाग द्वारा दिया जायेगा। बैठक में चीफ इंजीनियर सुब्रत घोष समेत अन्य अधिकारी मौजूद थे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

13.63 करोड़ की ठगी का आरोप, उद्योगपति गिरफ्तार  

- झारखंड के चास थाना की पुलिस ने अभियुक्त को बांकुड़ा से किया गिरफ्तार - पुरुलिया जिला में अभियुक्त का है इस्पात कारखाना - फोटो बांकुड़ा : झारखंड आगे पढ़ें »

बारानगर में नाले से व्यक्ति का शव बरामद

बारानगर : बारानगर थाना अंतर्गत लेबू बागान स्थित एक नाले से रविवार की सुबह व्यक्ति का शव बरामद किया गया। सुबह मॉर्निंग वॉक करने निकले आगे पढ़ें »

ऊपर