सुरक्षा की चादरों में घिर रहा है सेकेंड हुगली ब्रिज

* ताकि कोई नहीं लगा पाये छलांग, लग रही है आउटर रेलिंग
* दो सालों में 20 – 22 लोगों ने ब्रिज से कूद कर कर ली है आत्महत्या
* 10 – 11 लोगों को बचाया गया
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : कोलकाता से हावड़ा को जोड़ने वाला सेंकेड हुगली ब्रिज बेहद ही अहम ब्रिज है। यातायात के लिए यह ब्रिज सुगम है। कभी-कभी पुलिस के लिए उस समय परेशानी बढ़ जाती है जब सेकेंड हुगली ब्रिज (विद्यासागर सेतु ) से कोई कूदकर गंगा में छलांग लगाकर आत्महत्या कर लेता है। पहले ऐसे कई मामले सामने आये हैं। अब ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए सुरक्षा का दायरा पूरी तरह से बढ़ाया जा रहा है। सेकेंड हुगली ब्रिज के दोनों ओर आउटर रेलिंग लगायी जा रही है जिसकी ऊंचाई लगभग 9-10 फुट होगी ताकि कोई गंगा में छलांग नहीं लगा पाये। अभी इसकी ऊंचाई 3 फुट है। सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक पुलिस द्वारा यह प्रस्ताव एचआरबीसी को दिया गया है। एचआरबीसी की ओर से आउटर रेलिंग लगाने का काम शुरू कर दिया गया है।
क्या है पूरी योजना
दरअसल, सेकेंड हुगली ब्रिज पर जहां से फुटपाथ शुरू होता है वहां से लेकर गंगा वाला हिस्सा पार करते हुए उसके अगले छोर तक आउटर रेलिंग लगायी जायेगी। यह रेलिंग दोनों ओर से लगेगी। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इसका काम शुरू हो चुका है। उन्होंने कहा कि पहले से एक रेलिंग है, अब उसके आगे करीब 9 फुट की बड़ी रेलिंग होगी। टार्गेट है कि 3 महीने में यह काम पूरा कर लिया जाये। सूत्रों के मुताबिक जहां इसका काम हो रहा है उसकी दूरी (दोनों ओर से) लगभग चार हजार आठ सौ मीटर होगी। इसके लिए करीब 90 से 91 लाख रुपये खर्च होंगे। यह बड़ा प्रोजेक्ट है।
कइयों ने लगायी है छलांग, कइयों को बचाया गया
गंगा में कूदकर आत्महत्या करने की कई घटनाएं सामने आ चुकी हैं। कभी ऐसा भी देखा गया है कि ब्रिज पर गाड़ी खड़ी है और उसमें कोई नहीं है क्योंकि उसका मालिक गंगा में कूद चुका है। जानकारी के मुताबिक हाल में विद्यासागर सेतु की रेलिंग से कूदकर एक किशोर ने आत्महत्या की कोशिश की थी। इस दौरान वहां ड्यूटी पर तैनात एनवीएफ कर्मी ने किशोर को आत्महत्या करने से बचा लिया था। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि गत दो सालों में 30 से अधिक ब्रिज से कूदने या कूदने की कोशिश के मामले सामने आए हैं। हालांकि पुलिस की तत्परता से इनमें से 10 – 11 लोगों की जान बचा ली गयी, जबकि पुलिस की नजर से बचकर करीब 20 – 22 लोगों ने सेतु से कूदकर आत्महत्या कर ली। अब ऐसे में आउटर रेलिंग लग जाने से इन घटनाओं पर अंकुश लगाया जा सकता है।

Visited 291 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

Mahashivratri 2024 Puja Samagri: महाशिवरात्रि में शिवजी की पूजा सामग्री की पूरी लिस्ट, यहां देखें

कोलकाता : महाशिवरात्रि का पर्व भगवान शिव को समर्पित हिंदू धर्म का महत्वपूर्ण पर्व है। इस दिन भगवान शिव की पूजा-अर्चना की जाती है और आगे पढ़ें »

IND vs PAK T20 World Cup: भारत-पाकिस्तान मैच के टिकट का दाम सुनकर चौंक जाएंगे

नई दिल्ली: न्यूयॉर्क में होने वाले ICC टी-20 विश्वकप में भारत और पाकिस्तान की टीमें भिड़ेंगी। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) अमेरिका में क्रिकेट को बढ़ावा आगे पढ़ें »

ऊपर
error: Content is protected !!