रुपया – गहना सब पार्थ का, अर्पिता ने बताया ईडी को, चार्जशीट में उल्लेख

अर्पिता की 31 एलआईसी पॉलिसी का 1.5 करोड़ रुपये सालाना प्रीमियम भरते थे पार्थ
अर्पिता के यहां मिलीं 7 देशों की मुद्राएं
एलआईसी पॉलिसी के मालिक भी पार्थ
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : एसएससी घोटाले में गिरफ्तार पार्थ चटर्जी के खिलाफ ईडी ने अपनी पहली चार्जशीट में कई विस्फोटक जानकारियों का हवाला दिया है। इसमें ईडी ने कहा है कि पार्थ चटर्जी की सहयोगी अर्पिता मुखर्जी से जब हिरासत में पूछताछ की गयी तो उसने सारा सच उगल दिया। उसने कहा कि यह सारा रुपया और गहना सब पार्थ चटर्जी का है। उन्होंने ही इसे वहां रखवाए थे। 172 पेज की इस चार्जशीट में ईडी की ओर से कई सनसनीखेज खुलासे किये गये हैं। ईडी की टीम से अर्पिता ने कहा कि टॉलीगंज और बेलघरिया से जब्त किया गया सारा 50 करोड़ और करोड़ों का गहना उसका नहीं बल्कि पार्थ चटर्जी का है। अर्पिता ने ईडी से कहा कि वह शुरुआत में कुछ नहीं बता रही थी क्योेंकि उसे डर था कि कहीं उसकी मां की हत्या न कर दी जाए। उनकी सारी कंपनियों के अप्रत्यक्ष रूप से मालिक पार्थ चटर्जी थे। उनके कहे के अनुसार सारा काम होता था। अब तक इस मामले में ईडी की टीम ने दोनों की 103 करोड़ की संपत्ति अटैच की है। इनमेे 50 करोड़ कैश, 5 करोड़ का गहना, 40 करोड़ की अचल संपत्ति, इसके अलावा एफडी और 31 जीवन बीमा पॉलिसी, जिसका साल भर का प्रीमियम 1.5 करोड़ रुपये पार्थ चटर्जी दिया करते थे।
पार्थ चटर्जी और अर्पिता मुखर्जी के बीच करीबी संपर्क
ईडी की टीम ने बीमा पॉलिसी की जानकारी देते हुए यह साबित करने की कोशिश की कि उनके पार्थ चटर्जी से काफी घनिष्ठ संबंध हैं। चार्जशीट में कहा गया है कि अर्पिता मुखर्जी के नाम से 31 एलआईसी पॉलिसी मिली है। इनमें से कुछ पॉलिसियों का प्रीमियम 50 हजार रुपये प्रति वर्ष था, तो कुछ के उससे भी अधिक थे। 31 पॉलिसियों का कुल वार्षिक प्रीमियम डेढ़ करोड़ रुपये से अधिक था, जिसका भुगतान पार्थ चटर्जी करते थे। ईडी ने चार्जशीट में उल्लेख किया है कि उन्हें यह जानकारी पार्थ चटर्जी के मोबाइल फोन से मिली है। इस जानकारी की जांच पार्थ के बैंक के लेनदेन विवरण से की गयी है। इतना ही नहीं अर्पिता की इन एलआईसी पॉलिसियों में से ज्यादातर में नॉमिनी पार्थ चटर्जी हैं।

चार्जशीट में विभिन्न देशों की मुद्राओं का एक लिस्ट जारी किया है ईडी ने
कुल 7 देशों की मुद्राएं अर्पिता के घर से बरामद की गयी हैं। इसका लिस्ट चार्जशीट में जारी किया गया है। इनमें नेपाल, थाईलैंड, मले​शिया, हांगकांग, बांग्लादेश, सिंगापुर तथा अमरीकी डॉलर बरामद किये गये हैं। अब तक की छानबीन में यह सामने आया है कि इन सबके मालिक पार्थ चटर्जी हैं। इसके अलावा काफी संपत्ति का भी पता ईडी को चला है। इसकी छानबीन की जा रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

‘एजेंसी की गिरफ्तारी पर असम्मानित महसूस किया था सुब्रत दा ने’

एकडालिया के उद्घाटन पर ममता ने किया सुब्रत दा को याद सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : एकडालिया पूजा पंडाल का उद्घाटन करने पहुंची मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने स्वर्गीय आगे पढ़ें »

आरपीएफ की तत्परता से बचे यात्री की जान

सन्मार्ग संवाददाता हावड़ा : हावड़ा स्टेशन के प्लैटफॉर्म नंबर 18 में एक चलती ट्रेन से लड़खड़ाने पर यात्री नीचे गिर गया । इस दौरान प्लैटफॉर्म पर आगे पढ़ें »

ऊपर