रिश्तेदारों को अफसोस, कहा ‘काश बचा पाते छोटी बच्ची को’

घायल त्रियाशा ने गली से निकल आवाज दी थी कि ‘बचाओ’
हावड़ा : हावड़ा के एमसी घोष लेन में चार लोगों की हुई निर्मम हत्या के बाद पुलिस इसकी गंभीरता से जाँच में जुटी हैं। सेंट्रल हावड़ा के जिस इलाक़े में इस हत्या को अंजाम दिया गया है। वह इलाक़ा काफ़ी जन बहुल इलाक़ा माना जाता है। जहाँ पर सुबह शाम लोगों का जमावड़ा देखने को मिलता है। गुरुवार को भी इस घटना के बाद यह बाजार में चर्चा का विषय तो था लेकिन कोई भी मुंह खोलने तैयार नहीं था। वहीं उस इलाके में रात में हत्या की घटना को अंजाम दे दिया जाता है। यही नहीं जब ये हत्या की जा रही थी तब इस घटना से बचकर एक 13 साल की बच्ची त्रियाशा अपनी गली की सड़क तक आ गई थी और उसने अपने पास के रहने वाले एक रिश्तेदार सुब्रतो घोष को आवाज़ लगाया कि काका बचाओ। वे लोग मां बाबा को मार देंगे। यह सुनकर उसके पास के रहने वाले सुब्रत घोष तुरंत दौड़कर घर से बाहर निकले और उसे बचाने की कोशिश की है। लेकिन तब तक इधर पीछे से उनके अभिभावक की हत्या कर चुका देवब्रत घोष उसके पीछे आ खड़ा होता है। त्रियाशा को टान कर वापिस घर तक ले जाता है। इस दौरान सुब्रत बच्ची को टानने की कोशिश करते हैं लेकिन देबब्रत उस पर भी हमला कर देता है। ऐसे में सुब्रत अपने को बचाने में पीछे हट जाते है। फिर देवब्रत मेन गेट का दरवाज़ा बंद कर देता है और 13 साल की त्रियाशा का गला रेंत देता है। इस दौरान वे लोग मां, देवाशिश और रेखा को मार चुके थे। इस घटना के बाद सुब्रत काफ़ी सदमे में है। उसका कहना है कि उसने बच्ची की आवाज़ सुनकर उसे बचाने की कोशिश की लेकिन वो छोटी बच्ची को बचा नहीं पाया। काश वह छोटी बच्ची को बचा पाता। उसका कहना है कि पुलिस इस मामले की गंभीरता से जाँच करें और इस घटना में मुख्य अभियुक्त देवब्रत और उसकी पत्नी पल्लवी को कड़ी से कड़ी सजा दिलवाये।

शेयर करें

मुख्य समाचार

डेंगू से सावधान रहने के लिए पूजा समितियां भी करें प्रचार

कोलकाता : कोलकाता नगर निगम के मेयर फिरहाद हकीम ने महानगर में डेंगू की स्थिति को चिंताजनक बताते हुए कहा कि कोलकाता नगर निगम और आगे पढ़ें »

कवि सुभाष से रूबी के बीच हुआ मेट्रो का ट्रायल रन

साल के अंतिम महीने में ही शुरू हो जायेगी परिसेवा कोलकाता : कवि सुभाष यानी न्यू गरिया से रूबी यानी हेमंत मुखर्जी के बीच शनिवार को आगे पढ़ें »

ऊपर