रामपुरहाट की घटना तृणमूल के आपसी द्वंद्व का नतीजा : मो. सलीम

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : माकपा ने रामपुरहाट की घटना को तृणमूल कांग्रेस के आपसी द्वंद्व का नतीजा करार दिया है। पार्टी के नवनिर्वाचित राज्य सचिव मोहम्मद सलीम ने कहा कि रंगदारी में हिस्से को लेकर तृणमूल के लोग एक-दूसरे का खून कर रहे हैं। ग्राम पंचायत के उपप्रधान की हत्या का बदला लेने के लिए तृणमूल के लोगों ने अपनी ही पार्टी के लोगों पर बमबाजी की, आगजनी की घटनाओं को अंजाम दिया। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अपने पार्टी नेताओं व कार्यकर्ताओं को सूबे को विरोधी-शून्य करने को कहा था लेकिन तृणमूल ही तृणमूल को शून्य करने में जुटी हुई है। वार्ड नं. 17 में माकपा इसके बावजूद जीत गयी। तृणमूल कार्यकर्ता पुलिस पर हमले कर रहे हैं, कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। सलीम ने कहा कि पुलिस पूरी तरह निष्क्रिय है। अगर वहां तलाशी ली जाएगी तो गोदामों में बम भरे मिलेंगे, लेकिन पुलिस ऐसा नहीं करेगी बल्कि राज्य के मंत्री व पुलिस वहां जाकर पहरा देंगे और अपराधियों के लिए बाहर निकलने का रास्ता तैयार करेंगे। माकपा के राज्य सचिव ने कहा कि बंगाल में इस तरह खून-खराबा नहीं चलने दिया जा सकता। इसे हिंदू-मुसलमान के शवों की तरह देखना सही नहीं है क्योंकि लोग मारे जा रहे हैं। इससे बंगाल ‘विश्व बांग्ला’ में परिणत नहीं होगा। उन्होंने कहा, ‘तृणमूल अंडर अटैक फ्रॉम तृणमूल। फायर ब्रिगेड के कर्मियों ने दावा किया कि उन्हें गांव में घुसने से रोका गया। उन्हें किसने रोका ?’

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल का सबसे बड़ा मल्टिलेवल कार पार्किंग बन रहा अलीपुर में

 * एक साथ 300 से अधिक कार पार्किंग की क्षमता * इसी महीने उद्घाटन की संभावना * कार, 2 व्हीलर से लेकर बसों की भी हो सकेगी आगे पढ़ें »

किचन में इन नियमों के साथ रखें मां अन्नपूर्णा की तस्वीर, बदल सकती है आपकी तकदीर

कोलकाता : हिन्दू धर्म में मां अन्नपूर्णा का अत्यधिक महत्व है। मां अन्नपूर्णा को धन-धान्य की देवी माना जाता है। ज्योतिष और वास्तु शास्त्र में आगे पढ़ें »

ऊपर