बहूबाजार की घटना में रेलवे बोर्ड के हस्तक्षेप की जरूरत : फिरहाद

आज केएमआरसीएल के साथ बैठक करेंगे मेयर
जादवपुर के विशेषज्ञ भी होंगे शामिल
कोलकाता : बहूबाजार की घटना को लेकर मेयर फिरहाद हकीम ने कहा कि जब तक रेलवे बोर्ड के शीर्ष अधिकारी इस मामले को गंभीरता से नहीं लेंगे तब तक यही स्थिति बनी रहेगी, क्योंकि जो अधिकारी यहां काम कर रहे हैं वे इस मामले को संभाल नहीं पा रहे हैं। उन्होंने कहा कि 2019 में जहां मशीन फंसी थी वहां पानी की कई छोटे-छोटे पॉकेट बन गए हैं, जिस कारण मिट्टी कीचड़ में परिवर्तित हो जा रही है। इसी के कारण ये घटना हो रही है। मेयर ने कहा कि अगर इसी तरीके से काम चलता रहा तो हर दो- तीन दिनों में घरों में दरारें आती रहेंगी। यदि प्रभावितों को अस्थायी रूप से हटा भी दिया जाए तो भी दो साल बाद फिर से यही समस्या उत्पन्न हो सकती है। इसलिए रेलवे के शीर्ष स्तर के अधिकारियों को मामले में हस्तक्षेप करना चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर जरूरत पड़े तो मदन दत्त लेन इलाके के कुछ घरों को ढहा कर नए मकान बनाए जाएं और योजना के मुताबिक जिसके पास जितने वर्ग फुट का घर है, उसे मकान या रुपये का भुगतान कर दिया जाए। उन्होंने कहा कि ये सारे फैसले रेलवे बोर्ड को लेने चाहिए। इधर आज यानी शनिवार को जादवपुर के विशेषज्ञ भी इस बैठक में शामिल होंगे। साथ ही घटनास्थल का भी दौरा करेंगे। हालांकि इसके पहले मेट्रो ने स्वीडेन के विशेषज्ञों को दिखवाकर ही काम की शुरूआत की थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अब डेढ़ मिनट के अंतराल पर छूटेगी कोलकाता मेट्रो

मेट्रो स्टेशनों पर मिलेगी वाईफाई की सुविधा नार्थ-साउथ मेट्रो में बदले जा रहे हैं सिग्नलिंग सिस्टम इसके लिए पहले ही बुलाए जा चुके हैं टेंडर सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : आगे पढ़ें »

राष्ट्रीय राजनीति की ओर : 12 को मेघालय जाएंगी ममता

पार्टी कर्मियों के साथ करेंगी बैठक सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख व मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अगले हफ्ते 12 दिसंबर को मेघालय जाने वाली है। आगे पढ़ें »

ऊपर