पंचायत चुनाव से पहले जिलों में लगातार बम विस्फोटों से राजनीतिक पारा बढ़ा

20 दिनों में 2 बच्चों की मौत तथा 3 किशोर सहित कई घायल हुए
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : पंचायत चुनाव की बिसात बिछ चुकी है। चुनाव कभी भी हो, इसके लिए राजनीतिक पार्टियां जाेर – शोर से तैयारी में हैं। इसी बीच जिलों से लगातार जिस तरह से बम बरामदगी तथा विस्फोटों की घटनाएं सामने आ रही हैं उससे राजनीतिक पारा चढ़ गया है। तृणमूल, भाजपा, माकपा, कांग्रेस द्वारा बयानबाजी तेज हो गयी है।
बारूद कहां से आ रहे हैं, गहनता से जांच हो – फिरहाद
फिरहाद ने कहा कि बारूद कहां से आ रहे हैं, जहां से भी आ रहे हैं उन बॉर्डर को सील करना होगा। जहां इसका उत्पादन हो रहा है वहां से बाजार तक कैसे पहुंच रहा है, यह भी देखना होगा। गन एंड शेल फैक्टरी या जहां ये सब तैयार हो रहे हैं, कैसे स्मगलिंग हाे रही है, यह देखना उचित होगा। मंत्री ने कहा कि बम के सामान आसानी से तो कहीं भी नहीं मिल सकते हैं, ऐसे में इसका सोर्स जानना चाहिए कि कैसे बाजार में आ रहा है। यह जांच करने का विषय है। लॉ एंड ऑडर्र राज्य का विषय है। अगर बॉर्डर एरिया से आ रहा है तो हमलोगों को देखना होगा और अगर स्मगलिंग हो रही है तो यह उनलोगों को देखना होगा।
पुलिस को सीएम ने बम सर्च अभियान का दिया है निर्देश
मंत्री व मेयर फिरहाद हकीम ने मिनाखां की घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि पता चला है कि परिवार में कोई बम रखा था। सीएम ममता बनर्जी पुलिस को बम सर्च अभियान का लगातार निर्देश दे रही हैं ताकि कहीं भी बम रखा हो तो उसे बरामद किया जा सके।
बारूद की ढेर पर बैठा है बंगाल – दिलीप
भाजपा सांसद दिलीप घोष ने तृणमूल पर कटाक्ष करते हुए आरोप लगाया कि पश्चिम बंगाल बारूद की ढेर पर बैठा है, जिस तरह गांव-गांव से बम बरामद हुए। कई जगहों पर विस्फोट में लोग मर भी गये हैं। उससे यह प्रमा​​णित होता है कि बंगाल बारूद की ढेर पर बैठा हुआ है। दिलीप ने कहा कि तृणमूल के नेता पंचायत चुनाव में दखल को लेकर गंभीर बयानबाजी कर रहे हैं।
बदमाशों का मनोबल बढ़ रहा है – सुजन
माकपा नेता सुजन चक्रवर्ती ने कहा कि बदमाशों का मनोबल बढ़ रहा है। हाल में बासंती, सैंथिया, केशपुर, मिनाखां और अब कुलपी में बम विस्फोट हुआ तथा बरामद हुए। उन्होंने आरोप लगाया कि प्रशासन के सहयोग से ही बदमाशों का मनोबल बढ़ रहा है।
हाल की घटनाओं पर एक नजर
25 अक्टूबर : भाटपाड़ा प्रेमचंद नगर इलाके में बम विस्फोट हुआ था जिसमें एक बच्चे की मौत हो गयी थी तथा अन्य एक जख्मी हुआ था।
7 नवंबर – बासंती थाना क्षेत्र के तीतकुमार इलाके के एक खेत से भारी संख्या में बम बरामद किये गये थे।
14 नवंबर – बीरभूम के बहरापुर में बम विस्फाेट से एक व्यक्ति का हाथ व पैर उड़ गया।
15 नवंबर – पश्चिम मिदनापुर के केशपुर में रैली में बम फटा। यहां एक तृणमूल कर्मी का हाथ उड़ गया, वहीं कुछ और लाेग घायल हुए।
16 नवंबर – उत्तर 24 परगना के मिनांखा में तृणमूल नेता के घर पर विस्फोट हुआ जिसमें एक किशोरी की मौत हाे गयी।
16 नवंबर – दक्षिण 24 परगना के कुलपी में बम फटने से दो किशोर बुरी तरह घायल हो गये
पुलिस का अभियान जारी
विस्फोटों की घटनाओं के बाद पुलिस की ओर से कार्रवाई भी हुई। उत्तर 24 परगना के प्रेमचंदनगर सहित कई संदिग्ध व परित्यक्त इलाकों में पुलिस की टीम ने अ​भियान चलाया। जूट मिल लाइन से पुलिस ने एक बोरे से बम बरामद किये। बासंती में भी सर्च अभियान चलाकर 8 – 9 बम बरामद हुए। मिनाखां की घटना में एक की गिरफ्तारी हुई है बम बरामद हुए। अन्य जगहों पर भी पुलिस द्वारा अभियान चलाया गया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

जरूरत को समझते हुए सभी वर्ग के लोगों के लिए परियोजना शुरू की गयी – शशि

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : राज्य की नारी कल्याण व बाल विकास मामलों की मंत्री डॉ. शशि पांजा ने सोमवार को विधानसभा में विपक्षी विधायक अशोक लाहिड़ी आगे पढ़ें »

कुणाल घोष ने नेता मिथुन चक्रवर्ती को बताया बंगाल का कलंक

महिषादल : जिस प्रकार शुभेन्दु अधिकारी बंगाल में सत्ताधारी टीएमसी नेताओं पर लगातार आरोपों की बौछार कर रहे हैं। ठीक उसी प्रकार टीएमसी के नेता आगे पढ़ें »

ऊपर