जेल में सूज गए पार्थ के पैर, मेडिकल टीम बोली…

कोलकाता : पश्चिम बंगाल शिक्षक भर्ती घोटाला मामले में आरोपी पूर्व मंत्री पार्थ चटर्जी फिलहाल प्रेसिडेंसी जेल में हैं। कोर्ट के आदेश पर फिलहाल जेल में समय बिता रहे हैं। जेल हिरासत के दौरान पूर्व मंत्री के पैर में सूजन आ गई है और कमर में लगातार दर्द हो रहा है। पार्थ चटर्जी की जांच के लिए प्रेसीडेंसी जेल में शनिवार को सात सदस्यीय मेडिकल टीम गई थी। जेल के डॉक्टरों के प्रमुख प्रणब घोष ने पूर्व मंत्री को देखने के बाद प्रारंभिक रिपोर्ट में उल्लेख किया था कि जेल में पार्थ चटर्जी का पूरा इलाज संभव नहीं है। उन्होंने जेल अधीक्षक को भी रिपोर्ट दी थी। उसके बाद मेडिकल टीम उन्हें देखने जेल में गई। यह टीम पार्थ को जेल में कैसे रखा जाए? इस बारे में दिशा निर्देश देगी। पार्थ को जो शारीरिक समस्याएं हैं. उनका डॉक्टरों ने रिपोर्ट में जिक्र किया गया है। डॉक्टरों ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि जेल से सभी समस्याओं का इलाज नहीं किया जा सकता है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

कुर्मियों के आंदोलन वापसी की घोषणा के बावजूद नहीं हटे प्रदर्शनकारी, परिवहन चरमराया

हाइवे जाम करने के साथ ही रेल रोको जारी जिला जाने वाले यात्रियों की परेशानियां बढ़ी सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : शनिवार को नवान्न में अधिकारियों के साथ वर्चुअल आगे पढ़ें »

दुर्गापूजा को यूनेस्को से मान्यता दिलाने में केंद्र सरकार की भूमिका : मीनाक्षी लेखी

राज्य छीन रहा है श्रेय सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : दुर्गापूजा को यूनेस्को से अमूर्त सांस्कृतिक विरासत का दर्जा मिलने के बाद पूरे राज्य में उत्साह का माहौल आगे पढ़ें »

ऊपर