जेल से भी अर्पिता की मदद करना चाहते हैं पार्थ, लेकिन…

कोलकाताः पश्चिम बंगाल शिक्षक भर्ती घोटाला मामले में पार्थ चटर्जी और अर्पिता मुखर्जी जेल की हवा खा रहे हैं। हिरासत में दिन बिता रहे पार्थ चटर्जी ने अपनी करीबी अर्पिता मुखर्जी को कानूनी मदद उपलब्ध कराने का प्रस्ताव दिया था। सूत्रों के मुताबिक पूर्व मंत्री ने अर्पिता मुखर्जी को एक वकील के जरिए मदद का संदेश भेजा था, लेकिन अलीपुर महिला संशोधनागार में जेल हिरासत में रह रही अर्पिता मुखर्जी ने पूर्व मंत्री की मदद का प्रस्ताव खारिज कर दिया है। अर्पिता मुखर्जी पार्थ चटर्जी के वकील से कोई कानूनी मदद नहीं लेना चाहती हैं। दूसरी ओर, प्राप्त जानकारी के अनुसार अर्पिता मुखर्जी को जेल में बुखार आ गया है। हालांकि जेल प्रबंधन की ओर उन्हें दवा दी गई है। बता दें कि पूर्व मंत्री पार्थ चट्टर्जी ने खुद उनके लिए कानूनी मदद की व्यवस्था करने की पहल की थी। अर्पिता के लिए अपना वकील नियुक्त करना चाहते थे, लेकिन अर्पिता ने उस प्रस्ताव को व्यावहारिक रूप से अस्वीकार कर दिया है।

 

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

मंगलवार को करें ये उपाय, संकटमोचन हर लेंगे सारे संकट

कोलकाता : मंगलवार का दिन संकटमोचन हनुमान को समर्पित है। मान्यता है, इस दिन जो व्यक्ति हनुमान जी की विधिवत पूजा-अर्चना करते हैं, उनके जीवन आगे पढ़ें »

कांथी में जवाबी सभा कर सकते हैं शुभेंदु

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : कांथी में अ​भिषेक बनर्जी के जवाब में विपक्ष के नेता शुभेंदु ​अधिकारी जवाबी सभा करना चाहते हैं। प्रदेश भाजपा सूत्रों ने बताया आगे पढ़ें »

ऊपर