अपने जन्मदिन पर हवालात में अकेले बैठे रहे पार्थ, अर्पिता करती रही…

चाहकर भी विश नहीं कर पायी अर्पिता
कोलकाता : न कोई मुबारकबाद न कोई शुभकामनाएं। यह पहली बार है कि अपने जन्मदिन पर पार्थ चटर्जी दिनभर अकेले रहे। 6 अक्टूबर को पार्थ चटर्जी का जन्मदिन है मगर किसी को याद न रहा या कह सकते है किसी से याद रखने की जरूरत नहीं समझी। किसी को अगर याद था यह दिन तो वह उनकी दोस्त अर्पिता मुखर्जी जिसने कोशिश तो की पार्थ से मिलने की मगर उसे इसकी इजाजत नहीं मिली और ​अर्पिता चाहकर भी पार्थ को उनका जन्मदिन विश नहीं कर पायी। मालूम हो कि पार्थ और अर्पिता दोनों ही जेल में है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

रानाघाट में पड़ोसी महिला ने युवक को मारा चाकू

नदिया : रानाघाट थाने की पुलिस ने तारापुर निवासी गृहवधू मामन विश्वास को पड़ोसी युवक सुबोध विश्वास को चाकू मारकर घायल कर देने के आरोप आगे पढ़ें »

बीएसएफ ने 97 लाख से अधिक के सोने के बिस्किट समेत महिला तस्कर को पकड़ा

उत्तर 24 परगना : सोमवार को 10 बजे दक्षिण बंगाल सीमांत के अंतर्गत सीमा चौकी जयंतीपुर, 158 वीं वाहिनी के जवानों ने एक महिला तस्कर आगे पढ़ें »

ऊपर