हावड़ा प्री पेड टैक्सी बूथ पर यांत्रिक त्रुटि, यात्री हुए परेशान

हावड़ा : हावड़ा स्टेशन पर प्री-पेड टैक्सी बूथों में तीन रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन डिवाइस (आरएफआईडी) खराब हो गए हैं, जिससे बूथ व्यावहारिक रूप से अस्त-व्यस्त हो गए हैं। आधुनिक मशीन नहीं होने से यात्रियों को प्रीपेड टैक्सी लेने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। साथ ही, बूथ में कितनी टैक्सियां ​​आ रही हैं या जा रही हैं, इसकी सटीक जानकारी कंप्यूटर को नहीं हो पायी। आरोप यह भी है कि ड्यूटी पर तैनात ट्रैफिक पुलिसकर्मी भले ही यात्रियों की मदद करते हों, लेकिन कई बार टैक्सी ड्राइवर गंतव्य स्थान पर जाने के लिए राजी नहीं होते। नतीजतन, यात्रियों को टैक्सी लेने के लिए हावड़ा स्टेशन के पुराने परिसर में या नए परिसर के प्री-पेड टैक्सी बूथ के सामने लंबे समय तक इंतजार करना पड़ता है। हावड़ा सिटी पुलिस सूत्रों के मुताबिक, यह समस्या पिछले 6 महीने से चल रही है। समस्या के समाधान के लिए नए सिरे से टेंडर आमंत्रित कर मशीन खरीदने की व्यवस्था की जा रही है। 2013 में हावड़ा स्टेशन के पुराने परिसर के प्री-पेड टैक्सी स्टैंड पर दो और नए परिसर के टैक्सी स्टैंड पर एक आरएफआईडी मशीन लगाई गई थी। मशीनों को यातायात पुलिस द्वारा नियंत्रित किया गया था। टैक्सियों में विशेष स्टिकर होते हैं। आरएफआईडी डिवाइस का काम यह है कि जब टैक्सी प्री-पेड स्टैंड पर पहुंचती है तो उसमें लगे स्टीकर के जरिए वाहन का नंबर डिवाइस में दर्ज हो जाता है। जब यात्री अपने गंतव्य के अनुसार टिकट खरीदते हैं, तो यह कंप्यूटर पर आने के बाद टैक्सी के नंबर के आधार पर उत्पन्न होता है। टिकट की दो कॉपी यात्री को और एक कॉपी टैक्सी ड्राइवर को दी जाती है। ड्राइवर यात्रियों को अस्वीकार नहीं कर सकते क्योंकि गंतव्य टिकट संख्या के अनुसार उत्पन्न होते हैं। यात्रियों को टैक्सी भी आसानी से मिल जाती है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक, आरएफआईडी उपकरणों को मरम्मत के लिए भेजा गया था, लेकिन आखिरकार मरम्मत नहीं की जा सकी। जरूरी समाधान के तौर पर विद्यासागर सेतु के टोल प्लाजा पर यह डिवाइस मुहैया कराने वाली कंपनी से संपर्क किया जा रहा है। हावड़ा सिटी पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, नए आरएफआईडी उपकरणों के लिए टेंडर मांगी गई है। डिवाइस जल्द ही आ जाएगी, फिर कोई दिक्कत नहीं होगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

वंदे भारत एक्सप्रेस पर हमला को लेकर पीआईएल

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : वंदे भारत एक्सप्रेस पर हुए हमले को लेकर एक पीआईएल दायर की गई है। एडवोकेट रमाप्रसाद सरकार ने यह पीआईएल दायर की आगे पढ़ें »

प्लेटफॉर्म छोड़ 500 मीटर दूर जाकर रुकी लोकल ट्रेन

विधाननगर रेलवे स्टेशन की घटना सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : सोमवार की सुबह विधाननगर रेलवे स्टेशन पर लोकल ट्रेन प्लेटफॉर्म से 500 मीटर दूर जाकर रुकी। अचानक इस आगे पढ़ें »

ऊपर