शहीद दिवस पर डिजिटल माध्यम से राज्य के लोगों को संबोधित करेंगी ममता

कोलकाता : मुख्यमंत्री और तृणमूल प्रमुख ममता बनर्जी ने मंगलवार को कहा कि वह 21 जुलाई को शहीद दिवस के मौके पर राज्य के लोगों को कोविड-संबंधी प्रतिबंधों के मद्देनजर डिजिटल माध्यम से संबोधित करेंगी। साल 1993 में पुलिस कार्रवाई में युवा कांग्रेस के 13 कार्यकर्ताओं की मौत हुई थी। उनकी याद में टीएमसी 21 जुलाई को शहीद दिवस मनाती है। यह पार्टी के सबसे बड़े कार्यक्रमों में से एक है। बनर्जी उस समय कांग्रेस की युवा इकाई की नेता थीं। ममता बनर्जी ने ट्वीट किया,‘बंगाल के लोगों के आशीर्वाद के साथ, जिन्होंने हमें एक शानदार जीत और सरकार में ऐतिहासिक तीसरा कार्यकाल दिया है, मैं 21 जुलाई को शहीद दिवस पर दोपहर दो बजे भाइयों और बहनों को महामारी को काबू में करने के लिए लागू पाबंदियों की वजह से डिजिटल माध्यम से संबोधित करूंगी।’ पिछले साल भी टीएमसी प्रमुख ने कोविड की वजह से इस मौके पर ऑनलाइन भाषण दिया था। मुख्यमंत्री ने कहा ‘21 जुलाई को शहीद दिवस हमारे लिए हमारे उन 13 बहादुरों को याद करने का एक अहम मौका है, जो 1993 में राजनीतिक रूप से सुनियोजित हिंसा में बेरहमी से मार दिए गए थे।’

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल का सबसे बड़ा मल्टिलेवल कार पार्किंग बन रहा अलीपुर में

 * एक साथ 300 से अधिक कार पार्किंग की क्षमता * इसी महीने उद्घाटन की संभावना * कार, 2 व्हीलर से लेकर बसों की भी हो सकेगी आगे पढ़ें »

किचन में इन नियमों के साथ रखें मां अन्नपूर्णा की तस्वीर, बदल सकती है आपकी तकदीर

कोलकाता : हिन्दू धर्म में मां अन्नपूर्णा का अत्यधिक महत्व है। मां अन्नपूर्णा को धन-धान्य की देवी माना जाता है। ज्योतिष और वास्तु शास्त्र में आगे पढ़ें »

ऊपर