‘कोरोना के प्रोटोकॉल को मेंटेन कर ही खोला गया है मालदीव’

कोलकाता : मालदीव खुलने के बाद भी कोलकाता वासियों में कोरोना के थर्ड वेव को लेकर डर है। इसे लेकर मालदीव के आनररी कांसुल जनरल आर. के. जायसवाल ने कहा कि कोरोना के सभी प्रोटोकॉल को मेंटेन किया जा रहा है। वहां जाने में कोई डरने वाली बात नहीं है। गुरुवार को एक वेबिनियर के दौरान उन्होंने पर्यटकों व, होटल के अधिकारियों तथा ट्रेवेल एजेंटों के साथ एक मी​टिंग की। इस दौरान उन्होंने कहा कि हेल्थ सेफ्टी को देखते हुए वन आईलैंड-वन रिसोर्ट का कांसेप्ट वहां लाया गया है। कोलकाता से फिलहाल कोई डायरेक्ट उड़ान नहीं है लेकिन यहां से जाने वाले पर्यटकों को दिल्ली या मुम्बई होकर उड़ान मिल रही है। इसके साथ ही कई ट्रैवेल एजेंट्स यहां से चार्टर्ड उड़ानों को भी मालदीव के लिए संचालित कर रही है। मालदीव में कुल 1196 की संख्या में आईलैंड हैं, जहां अच्छा समय बिताया जा सकता है। वहां जाने वाले लोगों को आरटीपीसीआर टेस्ट करवाना जरूरी है। वहां डरने की कोई बात नहीं हैं क्योंकि टूरिज्म से जुड़े सभी अधिकारी व स्टॉफ वेक्सीनेटेड हैं। एयरपोर्ट से पर्यटकों को सीधे उनके रिसार्ट पहुंचाया जाता है। सब मिलाकर मालदीव वहां जाना सेफ है।
एक नजर मालदीव के टूरिज्म पर
आंकड़ों के अनुसार, मालदीव में जनवरी और जुलाई 2021 के बीच 2020 के पूरे वर्ष की तुलना में अधिक पर्यटकों का आगमन हुआ है। एक रिपोर्ट के मुताबिक मालदीव में गत 17 जुलाई, 2021 तक 559,000 पर्यटक आए थे, जो पूरे 2020 में आएं पर्यटकों की संख्या के बराबर है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सप्तमी पर महानगर में ट्रैफिक व्यवस्था हुई प्रभावित

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : महासप्तमी के अवसर पर रविवार को महानगर की सड़कों पर लोगों की भारी भीड़ उमड़ी। पूजा पंडाल घूमने के लिए लोगों की आगे पढ़ें »

पार्थ के खिलाफ दाखिल चार्जशीट का तकनीकी रोड़ा

अभी इंतजार है राज्य सरकार की अनुमति का सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : टीचर नियुक्ति घोटाले में सीबीआई की तरफ से पहली चार्जशीट अलीपुर के सीबीआई कोर्ट में आगे पढ़ें »

ऊपर