उत्तर कोलकाता में बढ़ रहे हैं मलेरिया के मामले, स्वास्थ्य विभाग ने नगर निगम को किया सतर्क

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : महानगर में डेंगू का प्रकोप जहां तेजी से बढ़ता जा रहा है, वहीं अब उत्तर कोलकाता में मलेरिया भी तेजी से पांव पसारने लगा है। स्वास्थ्य विभाग सूत्रों के अनुसार उत्तर कोलकाता में बीते कुछ दिनों में मलेरिया के मामले तेजी से बढ़े हैं। अक्टूबर महीने में कोलकाता में जो लोग मलेरिया से संक्रमित पाये गए उनमें से अधिकांश फलसी फेरम से संक्रमित थे। ज्यादातर फलसी फेरम से संक्रमित रोगी उत्तर कोलकाता के निवासी हैं, जो दैनिक मजदूरी कर जीवन निर्वाह करते हैं। स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि उत्तर कोलकाता में अचानक से मलेरिया के मामलों में वृद्धि दर्ज की गई है। इसका एक प्रमुख कारण लोगों का खुले में सोना है। स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि मलेरिया के बढ़ते मामले को देखते हुए विभाग ने कोलकाता नगर निगम को सतर्क किया है। स्वास्थ्य विभाग ने केएमसी को डेंगू के साथ ही मलेरिया से भी बचाव के लिए माइकिंग कर जागरूकता अभियान करने और उत्तर कोलकाता में रहने वाले मोटिया- मजदूरों के बीच मच्छरदानी वितरित किए जाने का निर्देश दिया है। साथ ही आशा कर्मचारियों को घर- घर जाकर मलेरिया से ग्रसित लोगों की जानकारी एकत्रित करने का निर्देश दिया है। गौरतलब है कि कोलकाता में इस साल अब तक 4,500 डेंगू के मामले सामने आए हैं। वहीं इस वर्ष 31 अगस्त तक राज्यभर में 13,812 मलेरिया के मामले सामने आए हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

एनामुल हक से तिहाड़ जेल में आज सीआईडी अधिकारी करेंगे पूछताछ

मवेशी तस्करी मामले में पूछताछ करने के ‌लिए दिल्ली पहुंचे सीआईडी अधिकारी सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : मवेशी तस्करी मामले में मुख्य अभियुक्त एमानुल हक से पूछताछ के आगे पढ़ें »

बीमारियों को दूर रखता है आपके किचन में रखा लहसुन, जानिए चमत्कारी लाभ

नई दिल्ली : लहसुन में एंटी-ऑक्सीडेंट्स और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं। इससे शरीर में हो रहे दर्द को कम करने में मदद मिलती है। आगे पढ़ें »

ऊपर