शांतिनिकेतन : लाखों रुपये देकर बंद कराया गया मां-बाप का मुंह : लॉकेट

लॉकेट ने कहा, तृणमूल के गुण्डों ने किया, लाखों रुपये देकर बंद कराया गया मां-बाप का मुंह
सन्मार्ग संवाददाता
बीरभूम : शांतिनिकेतन में शिवम ठाकुर नाम के बच्चे की किडनैपिंग व हत्या की घटना के बाद बुधवार को भाजपा सांसद लॉकेट चटर्जी शांतिनिकेतन के मोलडांगा इलाके में मृत बच्चे के परिवार से मिलने के लिए गयी थीं। उन्होंने आरोप लगाया कि इस घटना के पीछे पुलिस और तृणमूल की मिलीभगत है। हालांकि भाजपा नेता को ग्रामीणों ने गांव में घुसने नहीं दिया और उन्हें घेरकर गो बैक के नारे लगाये। गांव में घुसने नहीं दिये जाने के बाद सांसद लॉकेट चटर्जी ने शांतिनिकेतन थाना के सामने विक्षोभ दिखाया और दोषियों को सजा देने की मांग की।
यह कहा लॉकेट चटर्जी ने
इधर, लॉकेट चटर्जी ने मोलडांगा में बच्चे की हत्या की घटना में पुलिस की भूमिका पर सवाल उठाते हुए सवाल किया, ‘क्यों तलाशी के बावजूद बच्चे को नहीं ढूंढा जा सका। क्यों 52 घण्टे के बाद पास के घर की छत से बच्चे का शव मिला। पुलिस का कहना है कि जंगलों व आस-पास में खोजी कुत्तों के साथ तलाशी की गयी थी। ऐसा होने पर पहले बच्चे को क्यों नहीं ढूंढा जा सका ?’ राज्य सरकार पर हमला बोलते हुए भाजपा सांसद ने आरोप लगाया, ‘बच्चे की हत्या की अभियुक्त उस महिला का भाई अनुव्रत मण्डल की गाड़ी का ड्राइवर है।’ उन्होंने कहा, ‘हम सब सुरक्षा के अभाव में भुगत रहे हैं। पुलिस जान-बूझकर यह कर रही है, पुलिस व तृणमूल के गुण्डे इसके लिए जिम्मेदार हैं। उस बच्चे के मां व पिता का मुंह 10 लाख रुपये देकर बंद करा दिया गया ताकि वे लोग बाहर सच्चाई ना ला सके।’
क्या कहना है पड़ोसियों का
शिवम की हत्या की घटना में ग्रामीण कोई राजनीतिक रंग नहीं चाहते हैं। उनका कहना है, ‘प्रशासन हमारे साथ है, हम किसी तरह की राजनीतिक पार्टी को नहीं चाहते हैं और भाजपा को बिल्कुल नहीं चाहते हैं।’ हालांकि लॉकेट का कहना है कि ऐसी बातें तृणमूल के गुण्डे कह रहे हैं। वहीं ग्रामीणों का विक्षोभ देखते हुए लॉकेट पीछे हट गयीं और बाद में शांति​निकेतन थाना के सामने धरना दिया।
यहां उल्लेखनीय है कि गत सोमवार को बीरभूम के शांतिनिकेतन में रूबी बीबी के घर की छत से शिवम का बोेरे में बंद शव बरामद किया गया था जिसके बाद अभियुक्त के घर में आग लगाने के साथ ही तोड़फोड़ जैसी घटनाएं हुईं। स्थिति को देखते हुए इलाके में 6 पुलिस पिकेट बैठायी गयी है। वहीं बुधवार को अभियुुक्त रूबी बीबी को बोलपुर महकमा अदालत में पेश किया गया जहां से उसे 4 दिनों की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

‘एजेंसी की गिरफ्तारी पर असम्मानित महसूस किया था सुब्रत दा ने’

एकडालिया के उद्घाटन पर ममता ने किया सुब्रत दा को याद सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : एकडालिया पूजा पंडाल का उद्घाटन करने पहुंची मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने स्वर्गीय आगे पढ़ें »

आरपीएफ की तत्परता से बचे यात्री की जान

सन्मार्ग संवाददाता हावड़ा : हावड़ा स्टेशन के प्लैटफॉर्म नंबर 18 में एक चलती ट्रेन से लड़खड़ाने पर यात्री नीचे गिर गया । इस दौरान प्लैटफॉर्म पर आगे पढ़ें »

ऊपर