गुजरात के व्यवसायियों से मिला पांडेय बंधुओं का लिंक, अब तक 134 करोड़ के लेनदेन का पता चला

पुलिस को शैलेश के और 17 बैंक अकाउंट के बारे में पता चला
स्ट्रैंड रोड स्थित ऑफिस में पुलिस ने की छापामारी
सिर्फ 6 बैंक में हुआ था 57 करोड़ का लेनदेन, 11 बैंक अकाउंट खंगाले जा रहे
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : श‌िवपुर में शैलेश पांडेय के फ्लैट से 8 करोड़ रुपये की बरामदगी के मामले में पुलिस को महत्वपूर्ण तथ्य हाथ लगे हैं। पुलिस के अनुसार शैलेश पांडेय का संबंध गुजरात के व्यवसायियों से है। पुलिस सूत्रों के अनुसार आईएक्स ग्लोबल ऐप के जरिए की गयी धोखाधड़ी का लिंक गुजरात के कुछ व्यवसायियों से जुड़ा हुआ है। पुलिस उन व्यवसासियों तक पहुंचने के लिए लगातार सबूत एकत्रित कर रही है। वहीं दूसरी तरफ मंगलवार को कोलकाता पुलिस को शैलेश पांडेय के और 17 बैंक अकाउंट के बारे में पता चला है। इन बैंक अकाउंट में भी आईएक्स ग्लोबल ऐप की ठगी के रुपये का लेनदेन किया गया था। पुलिस के अनुसार इन 17 नए बैंक अकाउंट को 6 महीने पहले खोलकर लेनदेन किया गया था। इनमें से 6 बैंक अकाउंट के डिटेल्स को खंगालने पर पता चला कि करीब 57 करोड़ का लेनदेन किया गया है। ऐसे में पुलिस को अब तक 134 करोड़ रुपये के लेनदेन का पता चला है। पुलिस के अनुसार अभी और 11 बैंक अकाउंट को खंगालना है। ऐसे में पुलिस का अनुमान है कि शैलेश पांडेय द्वारा इन बैंक से हुए लेनदेन का आंकड़ा 200 करोड़ के पार जा सकता है। पुलिस ने प्राथमिक जांच में पाया कि यह सभी बैंक अकाउंट कोलकाता के विभिन्न इलाकों में रहनेवाले लोगों के नाम पर खोला गया था। सबसे चौंकाने वाली बात यह है कि उक्त सभी बैंक अकाउंट केनरा बैंक के नरेन्द्रपुर ब्रांच में खोला गया था। इससे पहले पुलिस को शैलेश के 5 अकाउंट के बारे में पता चला था ‌जिसके जरिए 77 करोड़ का लेनदेन किया गया। इसके अलावा कोलकाता पुलिस के एंटी बैंक फ्रॉड सेक्शन के अधिकारियों ने मंगलवार को स्ट्रैंड रोड स्थित शैलेश के ऑफिस में छापामारी की। छापामारी के दौरान कई दस्तावेज बरामद किए गए।
सीए इंस्ट‌िट्यूट को पत्र लिखकर पुलिस ने शैलेश के बारे में मांगी जानकारी
पुलिस के अनुसार शैलेश पांडेय चार्टर्ड अकाउंटेंट सही में है या नहीं, इसके बारे में पता लगाने के लिए कोलकाता पुलिस की तरफ से सीए इंस्ट‌िट्यूट को पत्र ल‌िखकर जानकारी मांगी गयी है। पुलिस सूत्रों के अनुसार उन्हें पता चला है कि शैलेश अकाउंट मुहैया कराने के साथ ही रुपये के हेरफेर का काम करता था लेकिन उसके सीए होने पर उन्हें संदेह है। इसके अलावा सीए इंस्ट‌िट्यूट की वेबसाइट पर भी पुलिस को शैलेश के बारे में कोई जानकारी नहीं मिली है।
आईएक्स ग्लोबल ऐप और वेबसाइट को बैन करने के लिए पुलिस ने लिखा पत्र
कोलकाता पुलिस की ओर से आईएक्स ग्लोबल ऐप को गूगल प्ले स्टोर से हटाने के लिए गूगल को पत्र भेजा गया है। इसके अलावा इस कंपनी की वेबसाइट को बंद करने के लिए सर्टिन को भी पत्र भेजा गया। पुलिस के अनुसार आईएक्स ग्लोबल ऐप को अमरीका में बनाया गया था। सूत्रों के अनुसार भले ही ऐप को अमरीका में तैयार किया गया हो लेकिन ‌इसे नाइजीरिया से ऑपरेट किया जा रहा है। फिलहाल पुलिस इस बारे में पता लगाने के लिए कोशिश कर रही है।
नेपाल के कॉल सेंटर से आता था भारतीय लोगों को फोन
पुलिस सूत्रों के अनुसार भारत में ठगी के शिकार लोगों के पास नेपाल के नंबर से फोन आता था। पुलिस सूत्रों के अनुसार मामले की जांच के दौरान जब आईएक्स ग्लोबल के अकाउंट में रुपये ट्रांसफर करने वाले लोगों से जांच अधिकारियों ने बातचीत की तो उन्हें पता चला कि कई लोगों के पास नेपाल के नंबर से फोन कर उन्हें ऐप डाउनलोड कर उसका सदस्य बनने के लिए कहा गया था। ऐसे में पुलिस का अनुमान है कि हो सकता है कि नेपाल में चल रहे कॉल सेंटर के जरिए यहां पर लोगों को जाल में फंसाया जा रहा था। फिलहाल पुलिस मामले में सभी पहलुओं की जांच कर रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अब दूसरे मामले में नौशाद सिद्दीकी को 6 दिनों की पुलिस हिरासत

पंचायत चुनाव तक मुझे जेल में रखना चाहती है तृणमूल - नौशाद सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : भांगड़ से आईएसएफ विधायक नौशाद सिद्दीकी को शुक्रवार को 6 दिनों आगे पढ़ें »

शुभेंदु के बाद दिलीप और मिठुन ने भी कहा, ‘अल्पसंख्यक विरोधी नहीं है भाजपा’

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : राज्य में पंचायत चुनाव होने वाले हैं और अगले साल लोकसभा चुनाव भी है। ऐसे में भाजपा अभी से खुद को आगे पढ़ें »

ऊपर